JEE / बदले पैटर्न के बाद टॉप एनआईटी के लिए 150 से अधिक अंक लाने होंगे

जेईई-मेन-1 के लिए 9 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन करवाया है

एजुकेशन डेस्क। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी शुक्रवार को जेईई मेन के एडमिट कार्ड जारी कर देगी। एग्जाम 6 से 11 जनवरी के बीच अलग अलग स्लॉट में होंगे। परीक्षा देश के 224 शहरों के साथ ही विदेश के 9 सेंटर पर भी होगी। जेईई-मेन-1 के लिए 9 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन करवाया है।

दूसरी ओर, जेईई मेन का पैटर्न बदलने के बाद एनआईटी के एडमिशन का टारगेट भी अलग होगा। पिछले साल का परिणाम और इस साल बदले मार्किंग स्कीम पैटर्न की स्टडी से सामने आया है कि स्टूडेंट्स को टॉप 10 एनआईटी की कोर ब्रांचेंज के लिए मार्क्स के नए टारगेट तय करने होगा। कॅरियर काउंसलिग एक्सपर्ट अमित आहूजा ने बताया टॉप 10 एनआईटी की कोर ब्रांच प्राप्त के लिए सामान्य वर्ग के लिए 300 नंबरों में 150 के करीब, ओबीसी को 145 से अधिक, ईडब्ल्यूएस विद्यार्थियों को 140, एससी विद्यार्थियों को 100 से अधिक और एसटी विद्यार्थियों को 70 से अधिक अंक प्राप्त करने का टारगेट लेकर चलना चाहिए।

दो एग्जाम का नॉर्मेलाइजेशन करके निकाली जाएगी रैंक
जेईई मेन 1 जनवरी और मेन 2 का आयोजन अप्रैल में किया जाएगा। जिस एग्जाम में स्टूडेंट्स के अधिक अंक मिलेगा, उन अंकों के स्कोर पर वह आईआईटी एंट्रेंस एडवांस्ड के लिए क्वालीफाई करेगा। मेन की ऑल इंडिया रैंक दोनों एग्जाम में स्टूडेंट्स की ओर से हासिल किए गए अंकों को नार्मेलाइजेशन करके निकाली जाएगी।

स्टूडेंट्स के पास जनवरी के बाद अप्रेल में होने वाली जेईई-मेन परीक्षा का विकल्प भी उपलब्ध है। दोनों परीक्षाओं के बाद उनके उच्चतम पर्सेन्टाइल स्कोर पर ही आल इंडिया रैंक जारी की जाएगी। विद्यार्थियों की पर्सेन्टाइल उनकी स्वयं की परीक्षा शिफ्ट के अनुरूप ही जारी की जाएगी।

देश के टॉप 10 एनआईटी में तिरछी, वारंगल, सूरतकल, इलाहाबाद, राउरकेला, जयपुर, कालीकट, नागपुर, कुरूक्षेत्र एवं सूरत शामिल हैं। इन कालेजों में एडमिशन के लिए इस बार नंबर के नए टारगेट छात्रों को तय करने होंगे।

पिछले साल जल्द जारी हुए थे एडमिट कार्ड
पिछले साल मेन के एडमिट कार्ड इंफाेरमेशन ब्रोशर जारी होने के कुछ दिन बाद ही वेबसाइट पर अपलोड कर दिए गए थे। हालांकि, इस साल एग्जाम से मात्र एक महीने ही प्रवेश पत्र पहले अपलोड किए जाएंगे। परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों को केंद्र का पता लगने के बाद वहां तक पहुंचने के लिए रिजर्वेशन के लिए मशक्कत करनी होगी। परीक्षा छह जनवरी से शुरू होगी। नया साल होने के कारण ट्रेनों में रिजर्वेशन की भी दिक्कत आ सकती है।

न्यूमरिकल वैल्यू के सवालों से मुश्किल
मेन में न्यूमरिकल वैल्यू के सवाल भी आएंगे। इन संख्या 15 होेगी। अब तक आईआईटी के एंट्रेंस एग्जाम जेईई एडवांस्ड में इस प्रकार के सवाल पूछे जाते। मेन में ही न्यूमरिकल वैल्यू के सवाल से एडवांस्ड के लिए स्टूडेंट्स का कॉंफिडेंस बढ़ेगा। अभी तक एनटीए ने फिजिक्स व कैमेस्ट्री के न्यूमरिकल वैल्यू के सवालों के सैंपल सवाल अपलोड किए हैं। मैथ्स के सवाल अपलोड नहीं किए गए हैं। न्यूमरिकल वैल्यू के सवालों को हल करने के लिए वर्चुअल की बोर्ड उपलब्ध रहेगा।

Next News

JEE 2020 / जानिए पांच सालों में किस टॉपिक को मिला कितना वेटेज

यह एग्जाम साल में दो बार आयोजित किया जाता है

NTA/ जेईई मेन्स परीक्षा 2020 का एडमिट कार्ड जारी

30 अप्रैल 2020 को जारी होगा रिजल्ट

Array ( )