सीबीएसई रिजल्ट्स के बाद स्टूडेंट्स और पैरेंट्स के लिए काउंसलिंग शुरू

सीबीएसई एफिलिएटेड स्कूल्स के प्रिंसिपल्स, ट्रेंड काउंसलर्स और स्पेशल एजुकेटर्स स्टूडेंट्स और पेरेंट्स की काउंसलिंग के लिए अवेलेबल होंगे।

एजुकेशन डेस्क, जोधपुर। बोर्ड रिजल्ट्स आने के बाद बच्चे और पैरेंट्स के मन में कई सवाल उठने लगते हैं। मार्क्स के आधार पर कॅरिअर चुनें या बच्चे अपनी पसंद की फील्ड में जाएं, किस फील्ड में बेहतर ऑप्शन हैं और बच्चों को कॅरिअर के लिए कैसे गाइड करें, ऐसे ढेरों सवालों के जवाब इन दिनों सीबीएसई के काउंसलर्स दे रहे हैं। हर साल की तरह इस साल भी सीबीएसई ने रिजल्ट्स के बाद स्टूडेंट्स और पैरेंट्स के लिए टेली काउंसलिंग की व्यवस्था की है।


बोर्ड ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर 
- दसवीं और बारहवीं बोर्ड रिजल्ट्स के बाद होने वाली कॉमन साइकोलॉजिकल प्रॉब्लम्स और जनरल क्वैरीज के लिए बोर्ड ने हेल्पलाइन नंबर 1800118004 जारी किया है। 
- इस टोल-फ्री नंबर पर 9 जून तक सुबह 8 से रात 10 बजे तक स्टूडेंट्स और पैरेंट्स रिजल्ट्स से जुड़ी समस्याओं के लिए फोन कर सकते हैं। 

69 एक्सपर्ट्स की टीम करेगी काउंसलिंग 
सीबीएसई एफिलिएटेड स्कूल्स के प्रिंसिपल्स, ट्रेंड काउंसलर्स और स्पेशल एजुकेटर्स स्टूडेंट्स और पेरेंट्स की काउंसलिंग के लिए अवेलेबल होंगे। इनके अतिरिक्त साइकोलॉजिस्ट्स भी अपनी सेवाएं देंगे। 

कहां गया इन टॉपर्स का एक नंबर ? 
- 12वीं में मेघना श्रीवास्तव तो 10वीं में प्रखर मित्तल ने 500 में से 499 मार्क्स हासिल किए। देश भर का मीडिया इनका इंटरव्यू कर रहा है। ये सवाल भी पूछा जा रहा है कि आखिर इनका एक नंबर गया तो कहां गया? दूसरी ओर सीबीएसई का रिजल्ट्स आने के बाद ट्वीट्स की बाढ़-सी आ गई। 

सीएएस प्रणाली से जुड़ेंगे काउंसलर्स 
सीबीएसई इस बार कॉल सेंटर की तर्ज पर सेंट्रलाइज्ड एक्सेस सिस्टम(सीएएस) प्रणाली के जरिये काउंसलर्स को जोड़ेगा। इसके जरिये देश के किसी भी हिस्से से छात्र टोल फ्री नंबर पर कॉल करके परीक्षा परिणाम संबंधी अपने सवाल और काउंसलर्स से कर सकेंगे। इसके अलावा सीबीएसई की वेबसाइट www.cbse.nic.in पर हेल्पलाइन का विकल्प चुनकर भी अपने सवाल पूछ सकेंगे।

काउंसलिंग में पूछे गए ये सवाल 

Q. 1. मेरे 12वीं कॉमर्स में 91 परसेंट आए हैं। सीए और साीएस के अतिरिक्त क्या ऑप्शंस अवेलेबल हैं? 
 प्रेक्षा सिंघवी 

Q. 2. मेरे बेटे के 10वीं में 84 प्रतिशत आए हैं। वो आर्ट्स लेना चाहता है और सिविल सर्विसेज में जाना चाहता है। मैं साइंस दिलाना चाहता हूं ताकि इंजीनियरिंग कर ले और करिअर सिक्योर हो जाए। बेटा मेरी बात नहीं मान रहा। मेरे बेटे को क्या करना चाहिए?   सुनील शर्मा 

Q. 3. 10वीं में मेरे 78 प्रतिशत आए हैं। मैं डॉक्टर बनना चाहता था, लेकिन अब मार्क्स देखने के बाद लग रहा है कि क्या सााइंस बायो लेना मेरे लिए सही होगा?  गौरव शर्मा 
 

Next News

काउंसलर से जाने एस्ट्रोफिजिक्स और क्लाउड कंप्यूटिंग में कहां हैं संभावनाएं

12वां के बाद हेल्थ साइंसेस में कैसे बनाए करियर? -दिनेश

जानिए जेनेटिक इंजीनियरिंग में कैसे बनाएं बेहतर करियर

मैं मैथ्स का छात्र हूं, जेनेटिक इंजीनियरिंग करने के लिए क्या करना होगा?- सिध्दार्थ

Array ( )