फीडबैक लेते हुए अपनी तरक्की पर भी रखें नज़र

ध्यान भटकता है और फोकस करना मुश्किल हो जाता है तो ऐसे में क्या करना चाहिए जानते हैं हार्वर्ड बिज़नेस रिव्यू से।

एजुकेशन डेस्क। ध्यान भटकता है और फोकस करना मुश्किल हो जाता है तो ऐसे में क्या करना चाहिए जानते हैं हार्वर्ड बिज़नेस रिव्यू से। साथ ही ये भी जानिए कि वीकेंड पर टीम को ईमेल क्यों नहीं भेजने चाहिए और मन का काम न मिलने पर अपने करियर को कैसे आगे बढ़ाना चाहिए। 

जब फोकस बने, तभी करें सबसे जरूरी काम 

- अधिकतर लोग ध्यान भटकने से पेरशान होकर फोकस बनाने के लिए लड़ते रहते हैं। वे डेस्क पर रखे फोन के बार-बार बजने से परेशान होते हैं, या मीटिंग्स के दौरान ईमेल्स और फेसबुक खोल लेते हैं। 
- परेशान होने की बजाय अपने पैटर्न को बेहतर समझने की कोशिश करनी चाहिए।
- एक हफ्ते तक केवल इसपर गौर करें कि आपका ध्यान कब और कैसे भटक रहा है। कौन सा समय है जब आप ध्यान लगाकर काम करते हैं? कौन सा समय है जब ध्यान भटकता है? ज्यादातर लोगों का ध्यान सुबह लगता है और लंच के बाद कम हो जाता है। 
- हर व्यक्ति का अलग पैटर्न है, इसलिए अपना पैटर्न पहचानकर दिन की प्लानिंग करें। जरूरी मीटिंग्स और काम उस वक्त के लिए बचाकर रखें जब आपका फोकस सर्वाधिक मजबूत होता है। 

(स्रोत: आर यू हैविंग ट्रबल फोकसिंग? दीज सिंपल स्ट्रैटजीस विल हेल्प, रैसमस हॉगार्ड, जैकलीन कार्टर)

 

इस तरह काम करें कि टीम का समय खराब न हो 

- ये सही है कि आपका जब मन करे तब काम करना चाहिए लेकिन एक मैनेजर के तौर पर आपको उन संकेतों को लेकर भी सतर्क रहना चाहिए जो कर्मचारियों को ईमेल्स भेजते या वीकेंड्स पर प्रोजेक्ट जांचते हुए आप देते हैं। 
- बहुत से लोग आपके मेल देखकर ये सोचेंगे कि "मेरे बॉस काम कर रहे हैं , तो मुझे भी करना चाहिए।' अगर आप रविवार शाम को ईमेल्स चेक करने के बारे में विचार करते हैं तो अपने कर्मचारियों को सोमवार तक मैसेज नहीं भेजें। 
- लेकिन अगर ईमेल्स भेजना बहुत जरूरी है तो टीम को ये स्पष्ट कर दें कि वीकेंड के दौरान आप उनसे इनके जवाब की उम्मीद बिल्कुल नहीं करते हैं। 
- आप चाहें तो ईमेल्स लिखकर ड्राफ्ट फोल्डर में भी रख सकते हैं जिससे कि इन्हें बाद में भेजा जा सके। इस तरह आप टीम का समय खराब किए बिना ही अपना काम खत्म कर सकते हैं। 

(स्रोत: इफ यू मल्टीटास्क ड्यूरिंग मीटिंग्स, युअर टीम विल टू, रायन फुलर) 

 

वो काम न मिले जो करना चाहते हैं तो क्या करें 

- हम सभी बेहतर काम करने की इच्छा रखते हैं। लेकिन कई बार ऐसा महसूस होता है कि अपने विकास के बारे में केवल हम ही सोच रहे हैं। 
- अगर ह्यूमन रिसोर्स या आपके बॉस आपको वो नहीं दे पा रहे हैं जो आप करना चाहते हैं, तो ऐसे में आपको क्या करना चाहिए? एक विकल्प है फीडबैक से ये जानने की कोशिश करना चाहिए कि आपको किस क्षेत्र में आगे बढ़ने की जरूरत है। 
- प्रेजेंटेशन या मीटिंग के बाद अपने बॉस को वो बताएं जो आपको लगता है कि बढ़िया था और जहां सुधार चाहिए उसके लिए उनसे सलाह भी लें।
- जिन चीजों पर काम करना है उनकी एक लिस्ट बनाकर फीडबैक के अनुसार खुद को रेट करें। अगर आप एक ब्रैंड मार्केटर हैं तो एडवर्टाइजिंग डेवलपमेंट में आप खुद को 'ए' दे सकते हैं, प्राइसिंग एनालिसिस में 'बी' और ट्रेड मार्केटिंग में 'सी' दे सकते हैं। 

(स्रोत: 6 वेज टू टेक कंट्रोल ऑफ युअर करियर डेवलपमेंट इफ युअर कंपनी डजन्ट केयर अबाउट इट, कार्टर कास्ट) 

Next News

दो चीजें तरक्की करने से रोकती हैं- अड़ियल रुख और ठहर जाना

कामयाबी के लिए जरूरी विचारों में लचीलापन

करियर में आगे बढ़ने के लिए कैसे पता करें की कौन से स्किल पर फोकस करें

उन लोगों से संपर्क बनाएं जिनके पास ऐसे काम हैं जो किसी दिन आप करने की इच्छा रखते हैं।

Array ( )