स्टूडेंट्स टेक्निकल कोर्स में एक से ज्यादा कॉलेज में नहीं ले पाएंगे एडमिशन- डीटीई

इससे छात्र का आधार कार्ड नंबर डालते ही उसका पूरा रिकॉर्ड कंप्यूटर पर सामने आ जाएगा। 

एजुकेशन डेस्क, ग्वालियर । मध्य प्रदेश के इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट व फॉर्मेसी कॉलेजों में अब स्टूडेंट एक से अधिक कोर्स में एडमिशन नहीं ले पाएंगे। दरअसल तकनीकी शिक्षा संचालनालय (डीटीई) द्वारा सत्र 2018-19 के लिए आयोजित की जाने वाली काउंसिलिंग में इस बार स्टूडेंट्स का सत्यापन बायोमैट्रिक मशीन से किया जाएगा। आधार कार्ड से बायोमैट्रिक मशीन लिंक रहेगी। इससे स्टूडेंट का आधार कार्ड नंबर डालते ही उसका पूरा रिकॉर्ड कंप्यूटर पर सामने आ जाएगा। 

आधार कार्ड अनिवार्य 
- काउंसिलिंग में भाग लेने के लिए इस बार आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया गया है। बायोमैट्रिक मशीन से स्टूडेंट का सत्यापन होने पर अब संबंधित को ही दस्तावेज का सत्यापन कराने के लिए हेल्प सेंटर पर पहुंचना पड़ेगा।
- इससे निजी कॉलेज स्टूडेंट्स की फोटोकॉपी के आधार पर हेल्प सेंटर पर दस्तावेज का सत्यापन कराकर अपनी मर्जी से खुद के कॉलेज में एडमिशन नहीं दे पाएंगे। एक से अधिक कॉलेज में एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन भी नहीं होगा। 

डीटीई ने टेक्निकल कोर्स में एडमिशनमें होने वाले फर्जीवाड़ा को रोकने के लिए किया प्रयोग 
- अभी तक एक स्टूडेंट का एडमिशन कई कॉलेज में हो जाता था दरअसल निजी कॉलेज स्कॉलरशिप के फेर में बीई, बी-फार्मा, बीऑर्क, एमबीए व एमसीए जैसे कोर्स में स्टूडेंट्स के फोटोकॉपी युक्त दस्तावेज के आधार पर अपनी मर्जी से एडमिशन संस्थान में कर लेते थे।
- कुछ स्टूडेंट भी ऐसे थे जो स्कॉलरशिप के लिए कई कोर्स व कॉलेज में एडमिशन ले लेते थे। इस तरह की गड़बड़ी पर रोक लगाने के लिए संचालनालय प्रदेशभर के लगभग 250 हेल्प सेंटर पर बायोमैट्रिक मशीन रखवाने जा रहा है। 
- मशीन में फिंगर प्रिंट लेने के बाद ही स्टूडेंटके दस्तावेज का सत्यापन होगा। इसके लिए गुरुवार को भोपाल में हेल्प सेंटर प्रभारियों को ट्रेनिंग दी जाएगी। प्रदेशभर के 197 इंजीनियरिंग कॉलेजों में बीई की लगभग 88 हजार सीटें हैं, जिनमें स्टूडेंट एडमिशन लेंगे। 

बायोमैट्रिक मशीन स्टूडेंट्स के लिए जाएंगे फिंगर प्रिंट 
- हेल्प सेंटर पर दस्तावेज का सत्यापन से पहले बायोमैट्रिक मशीन में स्टूडेंट्स का फिंगर प्रिंट लिया जाएगा। इसके बाद भी ही दस्तावेज का सत्यापन होगा। इससे स्टूडेंट एक से अधिक कॉलेज में रजिस्ट्रेशन कराकर एडमिशन नहीं ले पाएंगे। - एसएके राव, डिप्टी डायरेक्टर, डीटीई 

Next News

सबके लिए खुला देश का सबसे बड़ा बुक पोर्टल, पौने दो करोड़ फ्री किताबें

नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी के जरिए देश और दुनिया की चुनिंदा किताबें की गई ऑनलाइन

MP Board से 12th पास स्टूडेंट्स काे रजिस्ट्रेशन के लिए डेटा भरने की जरूरत नहीं

एडमिशन की प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही शासन ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए एमपी बोर्ड के डेटा को इस लिंक से जोड़ दिया है।

Array ( )