सफलता को करीब खींच ले आएगी आपकी मानसिक मजबूती

जब भी मुश्किल समय आता है तो मानसिक रूप से मजबूत लोग भी सामान्य लोगों की तरह ही परेशान होते हैं। अंतर यही है कि वे यह जानते हैं कि जीवन के चुनौतीपूर्ण पल कुछ मूल्यवान सबक लेकर आएंगे।

करियर डेस्क । एक सफल लीडर कैसे बना जा सकता है, इस बारे में कई थ्योरीज हैं। कम्यूनिकेशन से लेकर फैसले लेने की काबिलियत तक कई खूबियां हैं, जो कामयाबी की नींव रखती हैं। लेकिन बेहतर प्रदर्शन करने वाले लीडर्स में कुछ ऐसी अलग खासियतें होती हैं जो उनकी सक्सेज को और आगे ले जाती हैं। इनमें से एक विपरीत परिस्थितियों से लड़ने की ताकत यानी मानसिक मजबूती है, जो आपको सफल बना सकती है। साइकोलॉजिस्ट डॉ. ग्राहम जोंस ने हार्वर्ड बिजनेस रिव्यू के एक आर्टिकल में लिखा है नि:संदेह स्टार एथलीट्स में फिजिकल फ्लेक्सिबिलिटी व रचनात्मक क्षमता जैसी कई खूबियां होती हैं, लेकिन इसके अलावा भी कुछ ऐसा होता है जो उन्हें जीत के करीब ले जाता है। असल में किसी भी स्पोर्ट या बिजनेस में तेज तैरने, दौड़ने या क्वांटिटेटिव एनालिसिस की क्षमता से कहीं ज्यादा उम्मीदवार का मजबूत माइंडसेट महत्वपूर्ण होता है। यह मानसिक मजबूती बेहतरीन परिणाम लेकर आती है। यहां मेंटल स्ट्रेंथ से जुड़े कुछ पॉइंट्स हैं जिनका इस्तेमाल आप सफलता के नजदीक पहुंचने के लिए कर सकते हैं। 

चुनौतियों के जरिए खुद को बढ़ाएं आगे
एक पत्रकार ने अमेरिकी बॉक्सर मुहम्मद अली से पूछा वे हर दिन कितने सिट अप्स करते हैं तो उन्होंने जवाब दिया, मैं उनकी गिनती नहीं करता। मैं गिनती तभी शुरू
करता हूं जब मुझे दर्द होने लगता है। जब चीजें मुश्किल होने लगती हैं तो आपके पास हमेशा दो चॉइस होती हैं। या तो आप उनका मुकाबला करके आगे बढ़ जाएं या फिर उनके सामने हथियार डाल दें। किसी भी काम के मुश्किल होने पर उसे छोड़ने के बजाय अगर आप चुनौती के जरिए खुद को आगे बढ़ाएं तो आपके भीतर एक
ताकत का विकास होता है। 

पुरस्कार सरलता से नहीं मिलने चाहिए
स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी के एक प्रयोग में शोधकर्ता कुछ बच्चों को एक कमरे में मार्शमैलो कैंडी के साथ छोड़ देता है। जाने से पहले वह बच्चों से कहता है कि वे चाहें तो कैंडी खा सकते हैं, लेकिन अगर वे उसके आने तक रुके रहेंगे तो उन्हें एक और मार्शमैलो मिलेगा। दोहरे पुरस्कार के आकर्षण में बच्चों ने इंतजार किया। इसके बाद वे ज्यादा संतुष्ट थे। असल में वे लोग जो बेहतर स्कोर, कॅरिअर सक्सेस या अपने लक्ष्यों के लिए इंतजार कर लेते हैं उन्हें बेहतर नतीजे भी मिलते हैं। सार यही है कि खुशी में देरी सफलता के लिए जरूरी है।

गलतियों के साथ कोशिश जारी रखें
कॉलेज ऑफ विलियम एंड मैरी के शोधकर्ताओं ने 800 आंत्रप्रेन्योर्सका इंटरव्यू किया और पाया कि उनमें से जो सबसे ज्यादा सफल थे उनमें दो बातें कॉमन थीं। पहली
वे फेलियर के लिए हमेशा तैयार रहते हैं और कभी भी इस बात की परवाह नहीं करते कि लोग उनके बारे में क्या कहेंगे या सोचेंगे। दूसरे शब्दों में सफल आंत्रप्रेन्योर्स
अपने फेलियर पर मंथन में जरूरत से ज्यादा समय और ऊर्जा नष्ट नहीं करते और वे इसे अपने गोल्स तक पहुंचने की प्रक्रिया में एक छोटा और जरूरी कदम मानते हैं।

अपनी संवेदनाओं पर काबू करें
नकारात्मक संवेदनाएं आपकी मेंटल स्ट्रेंथ को हर कदम पर चुनौती दे सकती हैं। यह संभव नहीं है कि आप अपनी संवेदनाओं को महसूस न करें लेकिन उन्हें मैनेज करना पूरी तरह से आपके हाथ में है। अगर आपकी भावनाएं आपकी सोचने की क्षमता पर हावी हो रही हैं तो इससे आपकी दृढ़ता को चोट पहुंच सकती है। एक
खराब मूड आपको आपकी चुनी हुई दिशा से भटका सकता है। यह उसी तरह से है जिस तरह एक अच्छा मूड आपको ओवरकॉन्फिडेंट और जरूरत से ज्यादा उत्साही बना देता है। 

ऐसे निर्णय लेने होंगे जिनसे आप डरते हैं
कई बार आपको ऐसे फैसले लेने होते हैं जो आप नहीं लेना चाहते, लेकिन आप जानते हैं कि आगे चलकर वे आपके लिए फायदेमंद साबित होंगे। हालांकि किसी भी चुनौती के आगे हथियार डाल देना बेहद सरल है, लेकिन सफल लोग जानते हैं कि इन पलों में सबसे बेहतर काम है शुरुआत। किसी भी टास्क की कमियों और चुनौतियों से डरते या घबराते रहना उस काम में लगने वाली ऊर्जाको घटा देता है। जो लोग आदतन मुश्किल कामों का बेड़ा उठाते हैं वे भीड़ से अलग नजर आते हैं। 

जब कोई फॉलो न कर रहा हो तब भी लीड करें
किसी भी सपोर्ट के साथ अपने लिए दिशा तय करना सरल होता है लेकिन वास्तविकता में ताकत की असली परीक्षा तभी होती है जब सबकुछ आपके खिलाफ हो। जिन लोगों की मेंटल स्ट्रेंथ बेहतर होती है वे तब तक टिके रहते हैं जब तक वे अपने सोचने के तरीके से लोगों का दिल नहीं जीत लेते।

आपको डिटेल्स पर फोकस करना होगा
जब तक काम से जुड़ी विस्तृत डिटेलिंग आपके दिमाग को थका न दे तब तक भी आपको फोकस करना होगा। कुछ भी आपकी मानसिक ताकत को उतना नहीं परख सकता जितना कि ये डिटेलिंग परख सकती है। जितना ज्यादा मानसिक ताकत को चुनौती देंगे उतनी ही मजबूती आएगी। 

Next News

आपके लिए बेहतरीन करियर के ऑप्शन लेकर आएगी चाइनीज लैंग्वेज

पिछले कुछ सालों में मेक इन इंडिया कैंपेन पर जोर दिए जाने के बाद से चीनी निवेशकों ने भारतीय बाजार में प्रवेश किया है। यही नहीं यहां चीनी भाषा के जानकारों

बदलाव करियर के लिए ऑक्सीजन की तरह काम करता है

पेशेवर जिंदगी में आप खुद को उस जगह पर देख सकते हैं जहां आपने कल्पना की थी, लेकिन आपको बदलावों के साथ सहज होना होगा।

Array ( )