कोई गूगल,कोई माइक्रोसॉफ्ट में, जानें क्या कर रहे हैं जेईई टॉपर्स

इस साल जेईई- एडवांस्ड परीक्षा में चंडीगढ़ के प्रणय गोयल ने 360 में से 337 नंबर लॉकर ऑल इंडिया टॉप किया है।

एजुकेशन डेस्क। हाल ही में देश के सबसे प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कॉलेजेस आईआईटी यानी इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में एडमिशन के लिए होने वाली जेईई एडवांस्ड एग्जाम का रिजल्ट घोषित हुआ है। इस साल करीब डेढ़ लाख स्टूडेंट्स ने ये एग्जाम दिया था, लेकिन इनमें से सिर्फ 18 हजार को ही काउंसिलिंग के लिए बुलाया गया है। बता दें कि देशभर में 23 आईआईटी हैं, जिनमें 11279 सीटें हैं। इस साल चंडीगढ़ के प्रणय गोयल ने 360 में से 337 नंबर लॉकर ऑल इंडिया टॉप किया। वहीं कोटा के साहिल जैन 326 नंबर्स के साथ दूसरे नंबर पर रहे। सभी लोग जानते हैं कि आईआईटी से पढ़कर निकलने वाले स्टूडेंट्स को बेस्ट कंपनी और बेस्ट पैकेज मिलता है और इनमें भी टॉप करने वाले सबसे ऊपर रहते हैं। इस खबर में हम साल 2009 से 2013 में एंट्रेंस एग्जाम में ऑल इंडिया टॉप करने वाले इन्हीं स्टूडेंट्स के बारे में बता रहे हैं, कि वे आज कहां हैं और क्या कर रहे हैं।

नितिन जैन (2009 टॉपर)

- फरीदाबाद के नितिन जैन ने 2009 में एआईईईई (अब जेईई- मेन) और आईआईटी-जेईई (अब जेईई- एडवांस्ड) दोनों एग्जाम में टॉप किया था। 
- साल 2013 में नितिन ने आईआईटी दिल्ली से कम्प्यूटर साइंड में बीटेक की पढ़ाई पूरी की। इस दौरान साल 2010 में हुए इंटरनेशनल ओलंपियाड ऑन एस्ट्रोनॉमी एंड एस्ट्रोफिजिक्स में उन्होंने गोल्ड मेडल जीता था।
- पढ़ाई के बाद उन्होंने पहले जोमाटो में इंटर्नशिप की और फिर कैम्पस प्लेसमेंट के जरिए ट्विटर में उनका सिलेक्शन हो गया। फिलहाल वे सेन फ्रांसिस्को में गूगल कंपनी में जॉब कर रहे हैं।

अनुमुला जितेन्दर रेड्डी (2010 टॉपर)

- साल 2010 में वारंगल के अनुमुला जितेन्दर रेड्डी ने आईआईटी-जेईई में टॉप रैंक हासिल की थी। उन्होंने आईआईटी बॉम्बे (2010-2014) से इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग में बी-टेक किया।
- उन्होंने क्यूएई एडुवेंचर्स में इंटर्नशिप की, इसके बाद केलिफोर्निया में काल्टेक सरफ्रेंड्स में जॉब करना शुरू किया। फिर उन्होंने ईटीएच ज्यूरिख (2015-17) से इलेक्ट्रिकल इजीनियरिंग में मास्टर्स की डिग्री ली।
- इंस्टिट्यूट ऑफ न्यूरोइंफोर्मेटिक्स (आईएनआई), यूनिवर्सिटी ऑफ ज्यूरिख और ईटीएच ज्यूरिख के मुताबिक वे फिलहाल पीएचडी कर रहे हैं।

इमादी प्रध्वीतेज (2011 टॉपर)

- आंध्र प्रदेश के पश्चिमी गोदावरी के रहने वाले इमादी प्रध्वीतेज साल 2011 में हुई आईआईटी-जेईई परीक्षा में AIR नंबर 1 रैंक और एआईईईई में AIR 7वीं रैंक पाई थी।
- उन्होंने आईआईटी -बॉम्बे से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बी-टेक करने के बाद सालभर तक उन्होंने साउथ कोरिया में सैमसंग कंपनी में जॉब किया।
- इसके बाद वे आईएएस ऑफिसर बनने का अपना सपना पूरा करने के लिए भारत लौट आए। पहली ही कोशिश में उन्होंने यूपीएससी-सीएसई-2017 में उन्होंने ऑल इंडिया में 24वीं रैंक पाई। फिलहाल में भारत सरकार में सिविल सर्विसेज में काम कर रहे हैं।

अर्पित अग्रवाल (2012 टॉपर)

- साल 2012 में फरीदाबाद के अर्पित अग्रवाल ने आईआईटी-जेईई में टॉप किया था। फिर उन्होंने आईआईटी दिल्ली से कंप्यूटर साइंस में बी-टेक किया।
- पढ़ाई के दौरान अर्पित ने टॉवर रिसर्च कैपिटल (2014) और डशे बैंक (2015) में इंटर्न किया। फिलहाल वे दिल्ली में रहते हैं और टॉवर रिसर्च कैपिटल में एक स्ट्रेटजिस्ट के रूप में काम कर रहे हैं।
- अर्पित ने आईआईटी-जेईई के अपने एक्सपीरियंस को लेकर एक किताब भी लिखी है, जिसका नाम है, 'माय एन्काउंटर विद आईआईटी-जेईई: द स्टोरी ऑफ प्रिपरेशन'।

साई संदीप रेड्डी (2013 टॉपर)

- साल 2013 में हुई आईआईटी-जेईई परीक्षा में संदीप रेड्डी ने टॉप किया था। हैदराबाद के रहने वाले रेड्डी ने ऑलइंडिया में टॉप किया था।
- उन्होंने आईआईटी बॉम्बे (2013-17) से कंप्यूटर साइंस में बीटेक और इंजीनियरिंग की। इस दौरान उन्होंने दो बार ACM इंटरनेशनल कॉलेजिएट प्रोग्रामिंग कॉन्टेस्ट में जगह बनाई।
- पढ़ाई के बाद अमेरिकन एक्सप्रेस में काम करने के बाद उन्होंने बाद में माइक्रोसॉफ्ट ज्वॉइन किया। फिलहाल वे वहीं जॉब कर रहे हैं।

Next News

आईआईटी एडमिशन: जिस कॉलेज व ब्रांच में दाखिला लेना हो, सिर्फ वहीं च्वॉइस भरें

आईआईटी कानपुर के निदेशक प्रो. अभय करंदीकर ने चिठ्ठी में स्टूडेंट्स से कहा

जेईई एडवांस्ड: सप्लीमेंट्री मेरिट लिस्ट जारी, केंद्र सरकार ने दिए थे निर्देश

सप्लीमेंट्री लिस्ट जारी होने के बाद अब 18,138 स्टूडेंट्स की जगह 31, 980 कैंडिडेट्स क्वालिफाय हो गए है।

Array ( )