सरकारी स्कूल / शिक्षकों को दोपहर की बजाय सुबह 7 बजे से पहुंचना होगा स्कूल

14 दिन पहले स्कूल पहुंचने के आदेश का शिक्षकों-अध्यापकों ने किया विरोध

एजुकेशन डेस्क। गर्मी की छुट्टियों की अवधि का मामला स्कूल शिक्षा विभाग के लिए मुसीबत बन गया है। अध्यापकों-शिक्षकों के संगठनों के विरोध के चलते विभाग ने टीचर्स के स्कूल पहुंचने का समय दोपहर की जगह बदलकर सुबह 7 से दोपहर 12 बजे तक कर दिया। सोमवार को पहले दिन डीआईजी बंगला स्थित ग्रीन पार्क प्राइमरी स्कूल की हेड मास्टर चंद्रकांता कतिया बेहोश हो गई। शिक्षकों को उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। इस घटना को लेकर मप्र शासकीय अध्यापक संगठन के पदाधिकारियों का कहना है कि हमने पहले ही कहा था, स्टूडेंट्स नहीं पहुंचेंगे तो हम भीषण गर्मी में स्कूलों में पहुंचकर क्या करेंगे।

भीषण गर्मी की वजह से आयुक्त लोक शिक्षण जयश्री कियावत ने रविवार को आदेश जारी किया था। इसमें कहा गया था कि सरकारी व निजी स्कूल 17 के बजाय 24 जून से खुलेंगे। इसे लेकर मप्र शासकीय अध्यापक संगठन, आजाद अध्यापक संघ समेत अन्य संगठनों ने विरोध जताया था। जितेंद्र शाक्य, उपेंद्र कौशल समेत अन्य पदाधिकारियों ने मंत्री के सामने अपना पक्ष रखा था। इनका कहना है कि 45 डिग्री तापमान में शिक्षकों को 6 से 20 किमी तक की दूरी पर स्कूलों में पहुंचना है। अभी कोई विशेष प्रशिक्षण भी नहीं है। स्टूडेंट्स और शिक्षकों के पहुंचने में 14 दिन का अंतर रहेगा। स्टूडेंट्स के नहीं पहुंचने पर ज्यादातर स्कूलों में शिक्षकों के पास कोई काम नहीं रहेगा। 

आयुक्त ने यह कहा है आदेश में
- शिक्षक त्रैमासिक एकेडमिक कार्य योजना तैयार करेंगे 
- शिक्षक एवं प्राचार्य अपने स्कूलों में सभी विद्यार्थियों के प्रवेश एवं नामांकन की प्रक्रिया पूरी करेंगे 
- पालकों से संपर्क कर बच्चों को स्कूलों में नियमित रूप से अाने के लिए प्रेरित करेंगे।

बदल दिया है स्कूल जाने का समय
- भीषण गर्मी के कारण ही शिक्षकों काे सुबह से पहुंचने को कहा गया है। इस अवधि में जरूरी प्रशिक्षण भी होंगी। । कौशल, दक्षता उन्नयन के मामले में प्रशिक्षित करना भी जरूरी है। जयश्री कियावत, आयुक्त लोक शिक्षण।

Next News

हायर एजुकेशन / पोर्टल खुलते ही यूजी कोर्स में पहले दिन हुए 5 हजार 866 रजिस्ट्रेशन

किसी भी राउंड में अब छात्राओं से नहीं लिया जाएगा पोर्टल शुल्

एमपी / दूसरे राज्यों के युवा 35 साल की उम्र तक नौकरी के लिए परीक्षा दे पाएंगे

विरोध शुरू... सिलावट, जयवर्धन समेत आधा दर्जन मंत्री फैसले से नाराज

Array ( )