रिजल्ट स्कूल स्टडीज का आएगा लाइफ का नहीं, स्टूडेंट्स और पेरेंट्स स्ट्रेस से रहें दूर

स्टूडेंट्स अगर बेस्ट रिजल्ट नहीं ला पाते तब इसे सैकेंड चांस की तरह देखें। पेरेंट्स की जिम्मेदारी है कि डिप्रेशन ज्यादा होने पर काउसंलर की हेल्प लेना न भूलें।

एजुकेशन डेस्क। देशभर के स्टेट बोर्ड्स ने एक के बाद एक रिजल्ट डिक्लेयर करना शुरू कर दिया है। जिसके चलते स्टूडेंट्स के साथ पेरेंट्स की भी टेंशन बढ़ गइ है। स्टूडेंट्स पर अच्छे नंबर लाने का प्रेशर हमेशा बना रहता है जबकि पेरेंट्स भी अपने बच्चे के अच्छे मार्क्स को लेकर टेंशन में रहते हैं। अगर आप भी बच्चे के रिजल्ट को लेकर स्ट्रेस में हैं तो इससे बचने के लिए कुछ जरूीहम आपको इस चिंता से मुक्त होने के कुछ आसान उपाय बता रहे हैं।

रिजल्ट के बारे में न करें डिस्कस 

रिजल्ट आने से पहले इसके बारे में बच्चों से बातचीत से बचें क्योंकि ऐसा करने से स्ट्रेस और बढ़ सकता है। यह मानकर चलें की एग्जाम ओवर हो चुके हैं और अब आप सिर्फ रिजल्ट का इंतजार करने के अलावा कुछ नहीं कर सकते। 

एक्सट्रीम की उम्मीद न करें

बच्चे या उनके पेरेंट्स जितने ज्यादा नंबर की उम्मीद करेंगे उतने ज्यादा टेंशन होगा। यह केवल स्कूल का रिजल्ट है इससे आपके बच्चे का पूरा फ्यूचर तय नहीं होगा। उसे आगे भी अच्छा करने के मौके मिलेंगे। 

दूसरे क्या कहेंगे ये न सोचें

इस बात को लेकर बिल्कुल भी न सोचें की बच्चे के मार्क्स पर दूसरे क्या बोलेंगे। आपके बच्चे का रिजल्ट आपकी सोशल प्रेस्टीज और रिस्पेक्ट को घटा या बढ़ा नहीं सकता। इसलिए अच्छे नंबर न आएं तो चिंता न करें। 

कम्पेरिजन न करें 

स्टूडेंट अपने रिजल्ट का कम्पेरिजन न करें। न ही पेरेंट्स अपने बच्चों की तुलना दूसरे बच्चों से करें। सभी बच्चे एक जैसे नहीं हो सकते। आपके बच्चे के मार्क्स कम हों लेकिन वो स्पोर्ट्स या दूसरी एक्टिविटी में आगे हो सकता है।

Next News

10th के बाद दमदार आवाज का जादू बना सकता है वॉइस ओवर आर्टिस्ट

दो से ज्यादा लैंग्वेजेस का नॉलेज हो तो डबिंग आर्टिस्ट के तौर पर कॅरियर बनाया जा सकता है। लोकल एफएम और ऑल इंडिया रेडियो के लिए भी वर्क कर सकते हैं।

किताब पढ़ें या बात करें रिजल्ट का स्ट्रेस दूर करने इन्हीं तरीकों को अपनाएं

कोई करीबी दोस्त, भाई-बहन या जिस रिश्तेदार से आप हर बात साझा कर लेते हों उससे बात करें। ऐसा करने से डिप्रेशन की कंडीशन से बाहर निकलने में हेल्प मिलेगी।

Array ( )