रिमझिम बोलीं- कोचिंग नहीं पापा के सपोर्ट से बनी CBSE टॉपर, 500 में से मिले 499 नंबर

रिमझिम का सिर्फ एक मार्क कट हुआ, वह भी मैथ्स में।

एजुकेशन डेस्क, बिजनौर। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने 10वीं क्लास का रिजल्ट मंगलवार को घोषित किया है। यूपी-उत्तराखण्ड की सीमा से सटे आरपी पब्लिक स्कूल की स्टूडेंट रिमझिम अग्रवाल ने 499 अंक हासिल कर देशभर में पहला स्थान हासिल किया है। बता दें कि 499 अंकों के साथ 4 छात्रों ने टॉप किया है। रिमझिम का सिर्फ एक मार्क कट हुआ, वह भी मैथ्स में।

नहीं की कोचिंग, पापा की हेल्प से बनीं टॉपर
- उत्तराखंड के कोटद्वार निवासी नीरज अग्रवाल की दिल्ली में ज्वैलरी शॉप है। उनकी बेटी रिमझिम मां अनामिका और बड़े भाई नमन के साथ कोटद्वार में ही रहती है।
- हाई स्कूल सर्टिफिकेट एग्जाम में 500 में से 499 मार्क्स स्कोर करने वाली रिमझिम ने बताया, "मैंने जिस तरह की प्रिपरेशन की थी और जैसे पेपर लिखे थे, मुझे यकीन था कि रिजल्ट अच्छा रहेगा, लेकिन इतना बेहतरीन होगा यह एक्सपेक्ट नहीं किया था। मैं घर पर मैग्जिमम टाइम स्टडीज में ही देती थी। जितनी भी देर पढ़ती थी, फुल कंसंट्रेशन के साथ स्टडी करती थी। 
- इनका स्कूल यूपी और उत्तराखंड के बॉर्डर पर है। रिमझिम डेली अपडाउन करती थीं।
- इन्होंने बताया कि "बेहतर मार्क्स के लिए कोचिंग जरूरी नहीं है। मैं 10वीं के लिए कहीं कोचिंग नहीं गई। जो भी डाउट्स होते थे वो टीचर ही सॉल्व करवा देते थे। बाकि पापा वीकेंड पर जब भी घर आते थे, वो मेरी पढ़ाई मे मदद करते थे। उन्होंने मुझे बहुत सपोर्ट किया।

क्या कहना है मां का
- रिमझिम की मां अनामिका बताती हैं, "मेरी बेटी एकेडेमिक्स के साथ ही एक्स्ट्रा कर्रिकुलर एक्टिविटीज में भी एक्टिव रहती है। वो स्कूल लेवल पर बास्केटबॉल खेलती है। इसके अलावा उसे सिंगिंग का भी शौक है।"
- रिमझिम ने बताया कि वह इंजीनियर बनना चाहती हैं।

स्कूल को भी है गर्व
- रिमझिम के स्कूल के प्रिंसिपल अजीत सिंह ने बताया, "बहुत अच्छा लग रहा है कि हमारे स्कूल की स्टूडेंट नेशनल टॉपर बनी है। रिमझिम एक होनहार स्टूडेंट है और आगे भी वो करियर में अच्छा करेंगी।

Next News

टॉपर नंदिनी ने बिना कोचिंग हासिल किए 499 नंबर, इंजीनियर बनने का है सपना

मैंने कोई कोचिंग नहीं की है क्योंकि मेरे स्कूल के टीचर बहुत सपोर्ट करते थे।

CBSE-ICSE का परफॉर्मेंस स्टेट बोर्ड से बेहतर: एनसीईआरटी सर्वे

एनसीईआरटी ने देशभर के स्कूलों में पढ़ने वाले 10वीं कक्षा के छात्रों पर किया सर्वे

Array ( )