नीट काउंसलिंग: स्टूडेंट्स को भरना होगा ग्रामीण क्षेत्रों में सेवा देने का अनुबंध पत्र

26 जून को आएगी नीट की स्टेट मेरिट लिस्ट और 30 जून तक कर सकेंगे फर्स्ट काउंसिलिंग के लिए च्वॉइस फिल

एजुकेशन डेस्क, ग्वालियर। प्रदेश के 8 गवर्नमेंट और 21 प्राइवेट मेडिकल कॉलेज की कुल 2618 मेडिकल की सीट स्टेट मेरिट लिस्ट से भरी जाएंगी। इनमें ऑल इंडिया मेरिट लिस्ट के आधार पर 8 गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज की 15 प्रतिशत (145 सीट) भरी जाएंगी। शेष 776 स्टेट मेरिट लिस्ट के आधार पर और 29 सेंट्रल पूल के माध्यम से भरी जाएंगी। इस बार नीट में सफल होने वाले प्रदेश के परीक्षार्थियों के पास बेहतर अवसर हैं। इसकी वजह है कि इस बार दतिया मेडिकल कॉलेज की 100 सीट भरी जाएंगी। इनमें 15 सीट ऑल इंडिया मेरिट लिस्ट के आधार पर भरी जाएंगी और शेष 85 सीट स्टेट मेरिट लिस्ट के आधार पर। डायरेक्टर मेडिकल एजुकेशन के मुताबिक 26 जून को नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) की मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी। इसके साथ ही च्वॉइस फिलिंग की शुरुआत हो जाएगी। नीट में सफल होने वाले परीक्षार्थियों की सुविधा को देखते हुए प्रदेश के प्रमुख मेडिकल कॉलेज में हेल्प सेंटर भी शुरू हो गए हैं। इनमें परीक्षार्थियों को च्वॉइस फिलिंग से लेकर सीट आवंटन से जुड़ी जानकारी दी जा रही है। साथ ही एक्सपर्ट पैनल छात्र-छात्राओं की जिज्ञासा का भी समाधान कर रहा है। 

 

12वीं में हों 50 फीसदी अंक 
- इसमें शामिल होने वाले प्रतिभागी की (31 मई 2018) न्यूनतम उम्र 17 वर्ष और (7 मई 2018) को अधिकतम उम्र 25 वर्ष होना आवश्यक है। 
- 50 फीसदी अंक 12वीं में जनरल कैटेगरी के प्रतिभागी के होना आवश्यक है। 
- 40 फीसदी अंक 12वीं में रिजर्व कैटेगरी के और 45 फीसदी अंक फिजिकल हैंडिकैप्ट के प्रतिभागी के होना आवश्यक है। 
- मूल निवासी प्रमाण पत्र की फोटोकॉपी। 

 

नए कॉलेज का मिलेगा फायदा 
प्रदेश के स्टूडेंट्स को मेडिकल में ज्यादा फायदा मिलेगा। इस बार दतिया मेडिकल कॉलेज शुरू होने से एमबीबीएस की सीट बढ़ने से प्रदेश के स्टूडेंट्स को ज्यादा अवसर मिलेगा। बीते वर्ष की तरह इस बार भी इंदौर पहले, भोपाल दूसरे और ग्वालियर तीसरे स्थान पर रहेगा। चयनित प्रतिभागियों को कॉलेज का चयन वहां की फैकल्टी के आधार पर करना चाहिए।  - महेश मिश्रा, एक्सपर्ट नीट 
जीआरएमसी कैंपस में चर्चा करते स्टूडेंट्स। 

 

कम रहेगा कटऑफ 
स्टेट रैंक जारी होने के साथ ही करीब 225 रैंक तक इंदौर मिलने की संभावना है। इस बार जिनकी स्टेट मेरिट रैंक 1000 तक आएगी उनको प्रदेश में बेहतर मेडिकल कॉलेज मिल सकेंगे। इस बार कटऑफ कम रहेगा।  - मुनीष शर्मा, एक्सपर्ट नीट 

 

यह भी भरना होगा 
- सीट अनुबंध पत्र ऑनलाइन भरना होगा। 
- ग्रामीण क्षेत्र में सेवा देने का ऑनलाइन अनुबंध पत्र भरना होगा। 
- सैनिक प्रवर्ग का लाभ लेने के लिए सेवारत सैनिक के संबंध में उसकी यूनिट के कंमांडेंट द्वारा और उसके जिले के सैनिक कल्याण बोर्ड द्वारा जारी प्रमाण पत्र की मूल प्रति। 
- स्वतंत्रता संग्राम सेनानी प्रवर्ग का लाभ लेने के लिए अभ्यर्थी को संबंधित जिला मजिस्ट्रेट द्वारा जारी किया गया प्रमाण पत्र। 

 

प्राइवेट मेडिकल कॉलेज 

कॉलेज

सीट

एनआरआई 

21 1842 328

 

इनको मिलेगा आरक्षण 
20 % आरक्षण एसटी 
16 % एससी 
14 % ओबीसी
 03 % फिजीकल हैंडीकैप्ड 
15 % आरक्षण एनआरआई स्टूडेंट्स को मिलेगा।

 

किस कॉलेज में कितनी हैं यूजी की सीट 

कॉलेज  

ऑल इंडिया कोटा सीट  स्टेट कोटा सीट

सेंट्रल पूल

गांधी मेडिकल कॉलेज, भोपाल

23 119 8

गजराराजा मेडिकल कॉलेज, ग्वालियर

23 121 6

महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज, इंदौर

23 124 3

नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज, जबलपुर

23 119 8

श्याम सहाय मेडिकल कॉलेज, रीवा 

15 82 3

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज, सागर

15 85 0

दतिया मेडिकल कॉलेज, दतिया 

15 85 0

गवर्नमेंट डेंटल कॉलेज, इंदौर

8 41 1

 

Next News

2650 मेडिकल सीट्स के लिए 18 जून से 2 राउंड में होगी नीट स्टेट काउंसलिंग

नीट स्टेट काउंसलिंग में एनआरआई कोटा में पहले राजस्थान बेस्ड एनआरआई स्टूडेंट्स को मिलेगी प्रायोरिटी, दूसरे स्टेट के राजस्थान में 10 से 12वीं तीन साल स्टडी

एम्स का रिजल्ट घोषित, 100 पर्सेंटाइल के साथ चार ने किया टॉप

807 सीटों के लिए हुए इस एग्जाम के लिए देशभर में 171 सेंटर्स बनाए गए थे जिसमें 2 लाख से ज्यादा कैंडिडेट्स शामिल हुए।

Array ( )