सीबीएसई 10th में चारों टॉपर्स को 499/500, जानें कहां कम हुआ 1 नंबर

पहले 3 स्थान पर आने वाले 25 छात्रों में से 12 उत्तर प्रदेश के।

एजुकेशन डेस्क। सीबीएसई ने मंगलवार दोपहर करीब 1 बजे 10th एग्जाम का रिजल्ट घोषित कर दिए। 8 साल बाद सीसीई पद्धति खत्म कर फिर से मार्क्स-पर्सेंटेज के आधार पर रिजल्ट जारी किया गया है। 2011 से 2017 तक रिजल्ट ग्रेडिंग सिस्टम (सीजीपीए) के आधार पर जारी किया जा रहा था। इस बार पहले 3 स्थानों पर 25 छात्र हैं। इनमें 17 लड़कियां और 8 लड़के हैं। 500 में से 499 यानी 99.8% नंबर के साथ 4 टॉपर हैं। इनमें डीपीएस गुड़गांव के प्रखर मित्तल, बिजनौर (यूपी) के आरपी पब्लिक स्कूल की रिमझिम अग्रवाल, स्काॅटिश इंटरनेशनल स्कूल शामली की नंदिनी गर्ग और भवनी विद्यालय कोच्चि की श्रीलक्ष्मी जी हैं। 7 छात्रों ने 498 अंकों के साथ दूसरा स्थान हासिल किया है। 11 छात्र 497 अंक हासिल कर तीसरे स्थान पर रहे। परीक्षा में 16 लाख विद्यार्थी बैठे थे। 

 

प्रखर मित्तल, गुड़गांव 
- आॅप्शनल विषय फ्रेंच में 1 नंबर कटा। बाकी सभी में पूरे 100 मार्क्स। 
499/500

रिमझिम अग्रवाल, बिजनौर 
- पाचं में से 4  विषय में 100 में से 100 मार्क्स केवल मैथ्स में 1 नंबर कम मिला। 
499/500 

नंदनी गर्ग, शामली 
- पाचं में से 4  विषय में 100 में से 100 मार्क्स केवल हिंदी में 1 नंबर कम मिला। 
499/500

श्रीलक्ष्मी जी, कोच्चि
- पाचं में से 4  विषय में 100 में से 100 मार्क्स केवल मैथ्स में 1 नंबर कम मिला। 
499/500

 

 लगातार तीसरे साल गिरा पासिंग परसेंटेज
- इस साल ओवरऑल पासिंग परसेंटेज 86.70% रहा, जो पिछले साल से 4.25% कम है। ये लगातार तीसरा साल है, जब 10वीं क्लास का पासिंग परसेंटेज गिरा है।
- 2017 में पासिंग परसेंटेज जहां 90.95% रहा था, वहीं 2016 में 96.21% स्टूडेंट्स पास हुए थे। जबकि 2015 में 98.64% स्टूडेंट्स पास हुए थे।

 

इस साल के आंकड़े

- 92.55% रहा दिव्यांग स्टूडेंट्स का पासिंग परसेंटेज
- दिव्यांग वर्ग में गाजियाबाद की सान्या गांधी के भी 489 नंबर आए
- दिव्यांग वर्ग में गुरुग्राम की अनुष्का पांडा ने मारी बाजी, 489 नंबर के साथ रहीं टॉप पर
- ओवरऑल पासिंग परसेंटेज 86.70% रहा, जो पिछले साल से 4.25% कम है।
- इस साल 88.67% लड़कियां और 85.32 लड़कों पास हुए।
- 95% मार्क्स वाले 27,476 स्टूडेंट्स रहे।
- 90% मार्क्स पाना वाले 1,31,493 स्टूडेंट्स रहे।
- 99.60% के साथ तिरुवनंतपुरम का सक्सेस रेट रहा देश में सबसे ज्यादा 
- चेन्नई 97.37% के साथ फिर से दूसरे स्थान पर रहा। पिछले साल भी 99.62% के साथ दूसरे स्थान पर था।
- इस साल नवोदय विद्यालय 97.31% के साथ टॉप पर रहा।
- इस साल सरकारी स्कूलों का सक्सेस रेट 63.97% रहा।
- इस साल टॉप 3 में 25 स्टूडेंट्स आए, जिसमें पहले स्थान पर 4, दूसरे स्थान पर 7 और तीसरे स्थान पर 14 स्टूडेंट्स रहे।
- 11.45 फीसदी बच्चों की कंपार्टमेंट आई

 

Next News

CBSE-ICSE का परफॉर्मेंस स्टेट बोर्ड से बेहतर: एनसीईआरटी सर्वे

एनसीईआरटी ने देशभर के स्कूलों में पढ़ने वाले 10वीं कक्षा के छात्रों पर किया सर्वे

लीक से बचने मेल से भेजे जाएंगे 10th कंपार्टमेंट एग्जाम के क्वेश्चन पेपर्स

10वीं के कंपार्टमेंट एग्जाम 16 से 25 जुलाई तक परीक्षा से आधे घंटे पहले सेंटर्स को मिलेगा ई-मेल।  

Array ( )