ICAI: सीए कोर्स में बदलाव, फाउंडेशन टफ; रिजल्ट 25% रहने की उम्मीद

8 मई को पहली बार हुआ था फाउंडेशन का एग्जाम, जुलाई के तीसरे हफ्ते में आएगा रिजल्ट।

एजुकेशन डेस्क। पिछले कुछ सालों से कॉमर्स स्टूडेंट्स की संख्या में लगातार कमी आ रही है, जिसका असर सीए और सीएस जैसे कोर्सेस पर पड़ रहा है। इसलिए सीए कोर्सेस की तरफ से स्टूडेंट्स को खींचने के लिए ऑल इंडिया चार्टर्ड अकाउंटेंट्स इन इंडिया (ICAI) और इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरी इन इंडिया (ICSI) ने कोर्स को आसान बनाने के लिए कई बदलाव किए हैं। सबसे बड़ा बदलाव तो यही किया गया कि सीए को खत्म कर फाउंडेशन कोर्स शुरू किया गया। हालांकि फाउंडेशन को पहले से भी ज्यादा टफ बना दिया गया, जिससे इस साल रिजल्ट 25% रहने की ही उम्मीद है।


इसलिए सीपीटी हुआ खत्म
- आईसीएआई ने सीपीटी खत्म कर फाउंडेशन शुरू किया ताकि फाइनल पास करने में आसानी हो। फाउंडेशन को थोड़ा टफ किया गया है। 
- हालांकि ज्यादातर स्टूडेंट्स सीपीटी के लिए एनरोल करा चुके हैं इसलिए फाउंडेशन में कम ही स्टूडेंट बैठे लेकिन अब सीए करने वालों को फाउंडेशन की परीक्षा देनी होगी। 
- जीएसटी आने के बाद स्पेशल वर्कशॉप आयोजित हो रही हैं तो सीए बनने वालों की स्किल्स और लैंग्वेज सुधारने के लिए भी कई कदम उठाए जा रहे हैं।
-  उधर, आईसीएसआई ने भी फाउंडेशन का कोर्स बदल दिया। इसी तरह इलेक्टिव सबजेक्ट की संख्या 5 से बढ़ाकर 8 कर दी है। 


एक्सपर्ट्स की राय 
- एक्सपर्ट्स का कहना है कि पिछले चार अटेंप्ट्स में सीपीटी का रिजल्ट औसत 40 प्रतिशत रहा है। फाउंडेशन का रिजल्ट 25 से 30 प्रतिशत रहने का अनुमान है। लेकिन 40 प्रतिशत की हम उम्मीद नहीं कर सकते। 
- आईसीएआई ने सीए में एनरोलमेंट बढ़ाने के लिए कोर्स बदला, लेकिन फाउंडेशन टफ करने की वजह से एक्सपर्ट्स को रिजल्ट 25 फीसदी रहने की उम्मीद, फाइनल पास करने में होगी आसानी। 


आईसीएआई पासिंग परसेंटेज गिरते देख सीपीटी हटाया, फाउंडेशन में जोड़े नए टॉपिक्स

- सीपीटी में लगातार स्टूडेंट्स कम हो रहे हैं लेकिन इस साल से आईसीएआई ने फाउंडेशन प्रोग्राम शुरू किया है। कहा जा रहा है कि इसे सीपीटी के मुकाबले टफ बनाया गया है, और एक्सपर्ट की मानें तो इसमें पासिंग परसेंट 20-22 फीसदी से ज्यादा नहीं रहेगा। 
- सीए एक्सपर्ट देवकीनंदन गुप्ता का कहना है कि सीए कोर्स में एनरोलमेंट्स घटने की मुख्य वजह है 11वीं में कॉमर्स लेने वाले स्टूडेंट्स पहले की तुलना में लगभग आधे रह गए हैं।
-  सीए कोर्स में एनरोलमेंट में कमी 2015 से ही शुरू हो गई थी और अब फाउंडेशन लागू हो जाने की वजह से दो-तीन साल तक जारी रहेगा। 
- फाउंडेशन कोर्स लागू होने के बाद पासिंग परसेंटेज और गिरने की संभावना है क्योंकि इसे सीपीटी के मुकाबले टफ किया गया है। 
- आईसीएआई की सीआईआरसी मेंबर प्रकाश शर्मा का कहना है कि चार्टर्ड अकाउंटेंसी के पैरेलल कॉम्पीटिशन में जो कोर्स आया है वो है लॉ। मैं मानता हूं कि स्टूडेंट्स को लॉ इसलिए अट्रेक्ट करता है क्योंकि इसमें सीए जितनी मेहनत भी नहीं लगती और पैकेज भी सीए की अपेक्षा में ज्यादा मिल रहे हैं। इसलिए जो ज्यादा मेहनत नहीं कर सकता, वो लॉ में चला जाता है। 


आईसीएआई के बदलाव 
1.सीपीटी की जगह फाउंडेशन कोर्स शुरू किया। डीप नॉलेज के लिए ऑब्जेक्टिव के साथ सब्जेक्टिव पर भी जोर। 
2.कॉमर्स एजुकेशन को प्रमोट करने के लिए स्कूलों में करियर काउंसलिंग और टेलेंट सर्च एग्ज़ाम। 
3.मुश्किल टॉपिक समझाने के लिए एक्सपर्ट के वेबकॉस्ट शुरू किए। एक्सपर्ट जॉब के लिए इंटरव्यू वगैरह के बारे में भी बता रहे हैं। 
4.ऑनलाइन बुक्स और कोर्स मटीरियल ताकि स्टूडेंट्स को किताबें ढूंढनी न पड़े। 


सीपीटी: पिछले 3 अटेंप्ट के रिजल्ट 
लगातार घट रहा है सीपीटी में रजिस्ट्रेशन 

साल

जून

दिसंबर 

वर्ष 2017

88916

63035 

वर्ष 2016

107058

70321 

वर्ष 2015

128916

99077 

वर्ष 2014

130291

100957

वर्ष 2013

138746

113553 

वर्ष 2012

149348

111961

 

17 जून को होने वाले CPT का शेड्यूल
पहला सेशन : 2 घंटे 
- सेक्शन-ए : फंडामेंटल्स ऑफ एकाउंटिंग (40 मार्क्स) 
- सेक्शन-बी : मर्केंटाइल लॉ (60 मार्क्स) 
दूसरा सेशन : 2 घंटे
- सेक्शन-सी : जनरल इकोनॉमिक्स (50 मार्क्स) 
- सेक्शन-डी : क्वांटिटेटिव एप्टीट्यू़ड (50 मार्क्स) 


एक्सपर्ट व्यू 
फाउंडेशन हार्ड नहीं पर रिजल्ट तो गिरेगा ही 
- ऐसा नहीं है कि सीए फाउंडेशन लागू हो जाने के बाद स्टूडेंट्स के लिए एग्जाम क्लियर करना पहले से ज्यादा मुश्किल होगा। नए कोर्स में सीपीटी के मुकाबले में कुछ बेनिफिट्स भी हैं। जैसे सीपीटी के पेपर में सभी सब्जेक्ट्स का एक ही दिन में कंबाइंड पेपर होता था। इसलिए स्टूडेंट्स को एक ही दिन में सभी सब्जेक्ट्स रिवाइज करने होते थे। इस वजह से उन पर पढ़ाई का बर्डन काफी बढ़ जाता था, लेकिन फाउंडेशन में ऐसा नहीं है। इसमें चार दिन एग्जाम चलने की वजह से स्टूडेंट्स को सब्जेक्ट्स रिवाइज करने के लिए पर्याप्त समय मिल जाएगा। जहां तक फाउंडेशन के रिजल्ट की बात करें तो यह सीपीटी के बराबर या उससे थोडा कम रह सकता है लेकिन मुझे नहीं लगता कि इसके और सीपीटी के रिजल्ट में बहुत ज्यादा वेरिएशन रहेगा। 
(बी आर जैन सीपीटी कोचिंग एक्सपर्ट)
 

Next News

सीए फाउंडेशन के एग्जाम आज से शुरू, 17 जून को होगा CPT

सीए-फाउंडेशन में 10 से 16 मई तक चार विषयों के पेपर हर दिन तीन घंटे देना होंगे, जिसमें पहले दो पेपर डिस्क्रिप्टिव टाइप व दो पेपर ऑब्जेक्टिव टाइप होंगे। 

5 दिन बाद सीपीटी का एग्जाम, टॉपर से जाने कैसे करें तैयारी

स्मार्ट टिप्स फॉलो कर बनाएं सीपीटी के एग्जाम में अच्छा स्कोर।

Array ( )