फ्लिपकार्ट ने अपनी सुदृढ़ आपूर्ति श्रृंखला के 20,000 श्रमबल को प्रषिक्षित करने के लिए राश्ट्रीय कौषल विकास निगम के साथ की साझेदारी

कंपनी के वेयरहाउस में मई से प्रषिक्षण कार्यक्रम चलाया जा रहा है, जिसमें करीब 20 प्रतिषत विषमास्टर्स को एक तिमाही से भी कम समय में प्रषिक्षित किया जा चुका है

एजुकेशन डेस्क। भारत के अग्रणी ई-काॅमर्स मार्केटप्लेस फ्लिपकार्ट नेे देशभर में अपने 20,000 विषमास्टर्स (डिलिवरी एग्जिक्यूटिव्स) को प्रषिक्षित करने के लिए राश्ट्रीय कौषल विकास निगम (एनएसडीसी) के लाॅजिस्टिक्स सेक्टर स्किल काउंसिल (एलएससी) के साथ साझेदारी की है। यह ई-काॅमर्स कंपनी और एलएससी के बीच अपनी तरह की पहली साझेदारी है, जिसका उद्देष्य उत्पाद आपूर्ति एवं ग्राहक अनुभव के सभी पहलुओं के लिए आपूर्ति श्रृंखला के श्रमबल को प्रमाणित करना है।

अपने श्रमबल को कॅरियर में प्रगति प्रदान करने की प्रतिबद्धता के तहत् फ्लिपकार्ट ने अपने अतिरिक्त 30,000 मजबूत आपूर्ति श्रृंखला के कार्यबल के लिए एलएससी के साथ मिलकर उन्नत प्रषिक्षण कार्यक्रम षुरू किया है। प्रषिक्षण कार्यक्रम के तहत् फ्लिपकार्ट एलएससी के साथ मिलकर डिलिवरी एग्जिक्यूटिव्स के लिए 8 घंटे के प्रषिक्षण माॅड्यूल का आयोजन कर रहा है ताकि उन्हें वितरण तंत्र की बारीकियों का ज्ञान दिया जा सके। डिलिवरी के लिए तैयारी से लेकर स्थानीय परिवहन कानूनों और नियमनों की समझ और एंड-टु-एंड आपूर्ति श्रृंखला की बेेहतर जानकारी मुहैया करने के साथ ही इन प्रषिक्षण सत्रों का उद्देष्य ई-काॅमर्स उद्योग को कर्मचारियों के लिए एक समग्र दृश्टिकोण प्रदान करना है। इनके अलावा, कर्मचारियों को अपनी भूमिका अदा करने और व्यावहार-केंद्रित सत्रों के माध्यम से ग्राहकों के साथ बातचीत करने के लिए जरूरी साॅफ्ट स्किल्स से भी लैस करना है। ये बारीकियां हब स्तर पर दक्षता बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं और ग्राहक अनुभव में सुधार लानेे के एक मुख्य घटक में से एक हैं।

प्रषिक्षण को सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद विषमास्टर्स को नेषनल स्किल क्वालीफिकेषन फ्रेमवर्क (एनएसएफक्यू) के मुताबिक ‘रिकाॅग्निषन ऑफ प्रायर लर्निंग’ (आरपीएल) प्रमाण पत्र प्रदान किए जाएंगे। केंद्रीय कौषल विकास और उद्यमिता मंत्रालय द्वारा जारी इस सह-ब्र्रांडेड प्रमाणपत्र को भारत के अलावा, जर्मनी, डेनमार्क, आॅस्ट्रेलिया और सऊदी अरब सहित 7 देेषों में माान्यता प्राप्त है। वर्तमान में देषभर के 100ः पिनकोड्स पर प्रतिदिन 1 मिलियन से अधिक षिपमेंट्स की आपूर्ति करनेे वाली फ्लिपकार्ट ने इस प्रषिक्षण माॅड्यूल को लाॅजिस्टिक्स स्किल सेक्टर काउंसिल के साथ सह-विकसित किया है।

ईकार्ट के वरिश्ठ उपाध्यक्ष श्री अमितेष झा नेे कहा, ‘‘प्रतिबद्ध कंपनी होने के नाते हम फ्लिपकार्ट में ने केवल प्र्रषिक्षित श्रमबल के महत्व को समझते हैं बल्कि उन्हें विकास करने की राह भी प्रदान करते हैं, और इस तरह से पूरे ईकोसिस्टम को सषक्त बना रहे हैं। लाॅजिस्टिक्स स्किल सेक्टर काउंसिल के साथ सह-विकसित उद्योग में श्रेश्ठ यह प्रषिक्षण माॅड्यूल हमारे मजबूत आपूर्ति श्रृंखला के श्रमबल को उत्पाद वितरण और ग्राहक अनुभव के क्षेत्र में क्षमताओं का निर्माण करने में मदद करेगा। इस साझेदारी के साथ हम सरकार के कौषल विकास मिषन को आगे बढ़ाने और अपने सबसे महत्वपूर्ण हितधारकों- डिलिवरी एग्जिक्यूटिव्स के साथ साथ ग्राहकों के लिए मूल्य सृजन करने को लेकर खुष हैं।’’

एलएससी ने मई में फ्लिपकार्ट के विषमास्टर्स को प्रषिक्षण देना षुरू किया है और 20,000 डिलिवरी एग्जिक्यूटिव्स में से 4,000 से ज्यादा को प्रषिक्षित कर चुका है और आने वाले महीनों में अपने 30,000 मजबूत आपूर्ति श्रृंखला के एसोेसिएट्स को प्रषिक्षित करने का लक्ष्य है। ई-काॅमर्स के सामाज के प्रत्येक वर्ग में प्रवेष करने की वजह से डिलिवरी एग्जिक्यूटिव्स की भूमिका लगातार बढ़ रही है, ऐसे में यह क्षमता विकास कार्यक्रम काफी महत्वपूर्ण हो गया है।

लाॅजिस्टिक्स स्किल सेक्टर काउंसिल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी कैप्टन टी. एस. रामानुजम ने कहा, ‘‘कौषल विकास केंद्र पर सरकार का प्रमुख ध्यान रहा है और खासतौर पर असंगठित लाॅजिस्टिक्स उद्योग को लाभ पहुंचानेे के लिए इसे षुरू किया गया है। फ्लिपकार्ट भारत की सबसे बड़ी ई-काॅमर्स फर्मों में से एक है और इतने बड़े स्तर पर सहयोग के लिए उन्हें आगे आते देखना खुषी की बात है। हमें उम्मीद है कि यह अन्य ऐसी बड़ी कंपनियों को प्र्रेरित करेगा, जो बड़ी संख्या में डिलिवरी एग्जिक्यूूटिव्स को नियुक्त करते हैं, इसके परिणामस्वरूप उनके विकास और सफलता के अवसर पैदा होंगे। हमारा संयुक्त प्रयास भारत के लाॅजिस्टिक्स श्रमबल को एक संगठित क्षेत्र बनाने की दिषा में लंबा सफर तय कर सकता है।’’

एलएससी के साथ यह साझेदारी फ्लिपकार्ट द्वारा अपनेे कर्मचारियों के लिए की गई कई क्षमता विकास पहल में सेे एक है। इससे पहले फ्लिपकार्ट ने फ्लिपअहेड के तहत् अपनी आपूर्ति श्रृंखला के करीब 10,000 एसोसिएट्स एवं एग्जिक्यूटिव्स को प्रषिक्षित कर चुकी है। फ्लिपअहेड एक प्रतिभा विकास कार्यक्रम है जिसकी षुरूआत कर्मचारियों के कॅरियर विकास की स्पश्ट राह प्रदान करने के लिए 2016 में की गई थी।

फ्लिपकार्ट ग्रुप के बारे में
फ्लिपकार्ट भारत के सबसे बड़े ई-काॅमर्स मार्केटप्लेस में से है जिसके पास 150 मिलियन से अधिक ग्राहकों का मजबूत आधार है। 2007 में लाॅन्च, फ्लिपकार्ट ने लाखों उपभोक्ताओं, विक्रेताओं, कारोबारियों और छोटे कारोबारों को देष की सबसे बड़ी ई-काॅमर्स क्रांति से जोड़ा है। 1,60,000 से अधिक पंजीकृत विक्रेताओं के साथ फ्लिपकार्ट 80 से अधिक श्रेणियों में 8 करोड़ से ज्यादा उत्पादों की पेषकष करता है। फ्लिपकार्ट को कैष आॅन डिलिवरी, नो काॅस्ट ईएमआई और आसान रिटर्न जैसे ग्राहक केंद्रित सेवाओं के लिए उद्योग में पुरोधात्मक पेषकष के लिए जाना जाता है। इसने ऑनलाइन खरीदारी को लाखों ग्राहकों की आसान पहुंच में लाकर उसे  किफायती बनाया है। 
 

Next News

रिपोर्ट /दो साल में 2560 छात्रों ने आईआईटी-आईआईएम छोड़ा, इनमें 1233 आरक्षित वर्ग के

आईआईटी दिल्ली में सबसे ज्यादा 782 छात्रों ने कॉलेज छोड़ा, इसमें 111 एससी, 84 एसटी और 161 ओबीसी के: रिपोर्ट

दैनिक भास्कर ऐप पर खेलें GK क्विज और जीते 2 करोड़ की स्कॉलरशिप

इस कॉन्टेस्ट में शामिल होने के लिए दैनिक भास्कर प्लस ऐप डाउनलोड करें

Array ( )