केमिस्ट्री स्टूडेंट्स के लिए सिर्फ लैब तक ही सीमित नहीं हैं अवसर

डॉ उमाशंकर बताते हैं कि केमिस्ट्री स्टूडेंट्स को अलग-अलग फील्ड्स में करिअर के साथ रिसर्च के ढेरों अवसर देती है। यही नहीं इसका स्कोप केवल लैब तक सीमित नहीं रह गया है। लैब के बाहर अलग-अलग इंडस्ट्रीज में अच्छे जॉब प्रोफाइल्स के लिए भी इसको पढ़ा जा सकता

एजूकेशन डेस्क । केमिस्ट्री स्टूडेंट्स को अलग-अलग फील्ड्स में करिअर के साथ रिसर्च के ढेरों अवसर देती है। यही नहीं इसका स्कोप केवल लैब तक सीमित नहीं रह गया है। लैब के बाहर अलग-अलग इंडस्ट्रीज में अच्छे जॉब प्रोफाइल्स के लिए भी इसको पढ़ा जा सकता है। बारहवीं में साइंस का चुनाव करने के बाद आप केमिस्ट्री में बीएससी और एमएससी कर सकते हैं। गेट की परीक्षा पास करके एमटेक और एमफार्मा कर सकते हैं। पीजी के बाद इस क्षेत्र में करिअर के कई मौके आपके लिए खुल जाते हैं। ये कहना है डॉ उमाशंकर असिस्टेंट प्रोफेसर, एनआईटी जालंधर का । उन्होने चर्चा के दौरान इस फील्ड से जुड़ी कई बाते सांझा कीं।

पीजी के बाद जॉब के अच्छे मौके
ऑर्गेनिक केमिस्ट्री या फार्मास्यूटिकल केमिस्ट्री का बैकग्राउंड हो तो रैनबैक्सी, सिपला व ल्यूपिन जैसी फार्मा कंपनियों में करिअर बना सकते हैं। इसके अलावा सिंथेटिक डाइज, एग्रोकेमिकल, टेक्सटाइल टेक्नोलॉजी से जुड़े क्षेत्रों और इंडियन ऑयल व ओएनजीसी जैसी बड़ी ऑयल कंपनियों में उपलब्ध अवसरों का भी फायदा उठा सकते
हैं।

आंत्रप्रेन्योरशिप के लिए भी अवसर
बिजनेस में रुचि रखते हैं तो केमिस्ट्री की पढ़ाई और ट्रेनिंग के बाद आपके लिए इस क्षेत्र में आंत्रप्रेन्योरशिप के भी कई अवसर उपलब्ध होते हैं। सॉल्वेंट प्यूरिफिकेशन, वेस्ट-वॉटर ट्रीटमेंट और फार्मास्यूटिकल इंडस्ट्रीज जैसे फील्ड में केमिस्ट्री की पढ़ाई करके बिजनेस की शुरुआत की जा सकती है।

विदेश से भी कर सकते हैं पढ़ाई
केमिस्ट्री में यूजी और पीजी के लिए अमेरिका की एमआईटी के अलावा राइस यूनिवर्सिटी, यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, परड्यू यनिवर्सिटी, यूके की कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी और सिंगापुर की एनयूएस आदि कुछ अच्छे विदेशी इंस्टीट्यूट्स हैं।

ये स्कॉलरशिप कर सकती हैं मदद
विदेश में मास्टर्स और पीएचडी के लिए फेलोशिप्स मिलती हैं। एमटेक और पीएचडी के लिए दाद, जेएसपीएस और मैरी क्यूरी फेलोशिप कुछ खास नाम हैं। भारत सरकार भी विदेश में रिसर्च के लिए इंडो-यूएस फेलोशिप, फुल ब्राइट फेलोशिप जैसी मदद देती है।

Next News

देश और विदेश में शानदार करिअर आॅप्शन के चलते इंटरनेशनल रिलेशन का बढा स्कोप 

डॉ धनंजय त्रिपाठी कहते हैं कि अगर आपकी दिलचस्पी पॉलिटिक्स में है और आपको अलग-अलग देशों या अंतरराष्ट्रीय मुद्दों के बारे में पढ़ना पसंद है तो इंटरनेशनल

लेबर स्टडीज की पढ़ाई दिलाएगी बेहतर नौकरी के मौके

 इस सब्जेक्ट की पढ़ाई कर रहे स्टूडेंट्स के लिए मजबूत कम्यूनिकेशन स्किल्स भी जरूरी हैं। 

Array ( )