CBSE: सरकारी स्कूलों का रिजल्ट 84.39%, प्राइवेट स्कूल फिर पीछे

पिछले साल भी प्राइवेट स्कूल, सरकारी स्कूलों से काफी पीछे रहे थे। पिछले साल प्राइवेट स्कूल के 79.27% स्टूडेंट्स पास हुए थे।

एजुकेशन डेस्क। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने शनिवार को 12th क्लास का रिजल्ट जारी कर दिया। इस साल का पासिंग परसेंटेज 83.01% रहा, जो पिछले साल से 1% ज्यादा रहा। इस साल का न सिर्फ ओवरऑल पासिंग परसेंटेज, बल्कि इंस्टीट्यूशन वाइज़ रिजल्ट में भी बढ़ोतरी हुई है। पासिंग परसेंटेज के मामले में इस साल भी सरकारी स्कूल प्राइवेट स्कूलों से काफी आगे रहे। हालांकि केंद्रीय विद्यालयों का पासिंग परसेंटेज सबसे ज्यादा रहा। 

इस साल ऐसा रहा इंस्टीट्यूट वाइज़ कंपेरिजन

- इस साल सरकारी स्कूलों ने प्राइवेट स्कूलों को काफी पीछे छोड़ दिया। इस साल सरकारी स्कूलों का पासिंग परसेंटेज 84.39% और सरकारी सहायता प्राप्त का स्कूलों का 84.48% रहा। 
- वहीं प्राइवेट स्कूलों की बात करें, तो इस साल इन स्कूलों का पासिंग परसेंटेज 82.50% रहा। 
- जबकि जवाहर नवोदय विद्यालय के 97.07% स्टूडेंट्स पास हुए और केंद्रीय विद्यालयों का पासिंग परसेंटेज सबसे ज्यादा 97.78% रहा। 
- पिछले साल के मुकाबले इस साल सेंट्रल तिब्बत स्कूल एडमिनिस्ट्रेशन (CTSA) के पासिंग परसेंटेज में 10% से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है। इस साल इन स्कूलों के 94.82% स्टूडेंट्स पास हुए हैं।

पिछले साल ऐसा रहा था पासिंग परसेंटेज

- वहीं पिछले साल की बात करें तो, 2017 में सरकारी स्कूल के 82.29% स्टूडेंट्स और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों के 81.63% स्टूडेंट्स पास हुए थे।
- वहीं प्राइवेट स्कूल पिछले साल भी सरकारी स्कूल से पीछे रहे थे। पिछले साल प्राइवेट स्कूलों का पासिंग परसेंटेज 79.27% रहा था।
- 2017 में नवोदय स्कूल का पासिंग परसेंटेज जहां 95.73% और केंद्रीय विद्यालयों का 94.60% रहा था। 
- जबकि सेंट्रल तिब्बत स्कूल एडमिनिस्ट्रेशन (CTSA) का पासिंग परसेंटेज 83.57% रहा था।

Next News

स्टूडेंट्स के लिए वर्चुअल साइंस पोर्टल तैयार, कर सकेंगे साइंटिस्ट से चर्चा

छात्र-छात्राओं को अपने विचार साझा करने का अवसर मिलेगा।

CBSE: टूटा रिकॉर्ड, 14 साल में पहली बार 500 में से 499, 34 स्टूडेंट्स के 99%

जिस इकोनॉमिक्स की दोबारा परीक्षा हुई, उसका रिजल्ट 5 साल का बेस्ट, 1659 स्टूडेंट्स के 100% मार्क्स

Array ( )