CBSE / 12वीं की परीक्षा पैटर्न में बदलाव, सभी विषय में होगी इंटरनल परीक्षा

नए पैटर्न को शैक्षणिक सत्र 2019-20 से लागू किया जाएगा

एजुकेशन डेस्क। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) ने 12वीं क्लास की परीक्षा पैटर्न में बदलाव किया है। नए पैटर्न के अनुसार सीबीएसई स्कूल-आधारित इंटरनल एसेसमेंट को बढ़ावा देगा। नए पैटर्न को शैक्षणिक सत्र 2019-20 से लागू किया जाएगा।

ऐसा है बदलाव

  • पहले 12वीं की परीक्षा में मैथ्स, लैंग्वेज, पॉलिटिकल साइंस की इंटरनल परीक्षा नहीं होती थी। नए पैटर्न के अनुसार अब इन सभी विषयों में इंटरनल परीक्षा आयोजित की जाएगी। यह परीक्षा लगभग 20 अंक की होगी। इस प्रकार मार्च 2020 बोर्ड परीक्षा का पेपर 80 अंकों का होगा। हालांकि, साइंस और फाइन आर्टस सबजेक्ट के लिए इसे लागू नहीं किया जाएगा।
  • सीबीएसई बोर्ड परीक्षा 2020 में सभी विषयों में 25 मार्क्स के ऑब्जेक्टिव प्रश्न (एमसीक्यू) शामिल करेगी। इस प्रकार से 80 में से केवल 60 मार्क्स सबजेक्टिव प्रश्नों के लिए होंगे। इस पैटर्न से छात्रों को परीक्षा में अपने स्कोर सुधारने में मदद मिलेगी और एक लंबा पेपर लिखने का बोझ कम होगा। 


सीबीएसई ने 2019 बोर्ड परीक्षा में पहले से ही अधिक इंटरनल च्वाइस क्वेश्चन की शुरुआत की थी, जहां प्रश्न पत्र के सभी सेक्शन में ऑप्शन प्रश्न को 33% बढ़ाया था। 2020 में भी इसी पैटर्न को जारी रखा जाएगा। ज्यादा च्वाइस होने के कारण छात्रों को एक प्रश्न चुनने में मदद मिलती है। 

Next News

CBSE 2019 / कक्षा 12वीं की रिवैल्यूएशन प्रक्रिया शुरू, ऐसे करें अप्लाय

रिवैल्यूशन के लिए सीबीएसई की ऑफिशियल वेबसाइट cbse.nic.in पर जाकर अप्लाय करें

CBSE / 12वीं कम्पार्टमेंट परीक्षा का रिजल्ट घोषित, 119541 छात्र हुए थे शामिल

सीबीएसई ने 2 जुलाई को 12वीं कम्पार्टमेंट परीक्षा का आयोजन किया था

Array ( )