CBSE 12th: IAS बनना चाहते हैं बिहार के आर्ट्स टॉपर सुजल कुमार

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) की 12वीं क्लास का रिजल्ट शनिवार को जारी कर दिया।

एजुकेशन डेस्क, पटना। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) की 12th क्लास का रिजल्ट शनिवार को जारी कर दिया। पटना के पुनाईचक में स्थित डीएवी स्कूल में पढ़ने वाले सुजल कुमार 98.4 फीसदी अंक लाकर आर्ट्स में बिहार टॉपर बने हैं। सुजल का अब अगला लक्ष्य आईएएस बनना है। मसालों के कारोबारी संतोष कुमार के बेटे सुजल ने कहा कि मैं अपनी सफलता के लिए पैरेंट्स और टीचर्स को श्रेय दूंगा। परीक्षा की तैयारी के लिए मैं रोज 7-8 घंटे की पढ़ाई करता था। यह पूरे साल लगातार की गई मेहनत का रिजल्ट है। आगे मैं ऑनर्स कर आईएएस की तैयारी करूंगा। IAS ऑफिसर बनकर मुझे अपने माता-पिता के सपनों को पूरा करना है।


शिवांगी को मिले हैं 98.2 फीसदी अंक
- डीएवी स्कूल में पढ़ने वाली आर्ट्स की छात्रा शिवांगी को 98.2 अंक मिले हैं। शिवानी ने कहा कि मैं रोज 3-4 घंटे पढ़ती थी। अकाउंट ऑफिसर अभय कुमार की बेटी शिवानी ने कहा कि अब मैं दिल्ली विश्वविद्यालय से पॉलिटिकल साइंस से ऑनर्स करूंगी। इसके बाद आईएएस की तैयारी करनी है। शिवानी ने कहा कि मैं अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता और टीचर्स को दूंगी। मैंने एनसीईआरटी की किताबें पढ़ी और टीचर द्वारा बनवाए गए नोट्स का अध्ययन किया।

अश्विन को मिले हैं 97.8 फीसदी अंक
- संत माइकल हाई स्कूल के साइंस के छात्र अश्विन श्रीवास्तव को 97.8 फीसदी अंक मिले हैं। अश्विन के पिता रमेश प्रसाद बिहार सरकार में एग्जिक्यूटिव इंजीनियर हैं। अश्विन भी पिता की तरह इंजीनियर बनना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि आगे मैं इंजीनियरिंग की पढ़ाई करना चाहता हूं। पूरे साल मैंने रोज करीब आठ घंटे पढ़ाई की। कभी पढ़ाई को टेंशन के रूप में नहीं लिया।


 

Next News

CBSE 12th में 4 साल से गर्ल्स नंबर 1, इस बार टॉप 9 में से 7 बेटियां

बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ जैसे अभियानों के इतर गर्ल्स हर एग्जाम में बॉयज से आगे बढ़ती जा रही हैं। एजुकेशन फील्ड में यह रेशो लगातार बढ़ा रहा है।

CBSE: 7 साल में ऐसा रहा लड़के-लड़कियों का पासिंग परसेंटेज,

इस साल लड़कियों का पासिंग परसेंटेज जहां 88.31% रहा वहीं 78.99% लड़के पास हुए।

Array ( )