टॉपर नंदिनी ने बिना कोचिंग हासिल किए 499 नंबर, इंजीनियर बनने का है सपना

मैंने कोई कोचिंग नहीं की है क्योंकि मेरे स्कूल के टीचर बहुत सपोर्ट करते थे।

एजुकेशन डेस्क। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने मंगलवार को 10वीं क्लास का रिजल्ट घोषित कर दिया है। गुड़गांव के प्रखर मित्तल समेत चार छात्रों ने टॉप किया है। सभी को 500 में से 499 नंबर मिले हैं। वहीं, यूपी की दो लड़कियों ने 499 अंकों के साथ मेरिट लिस्ट में पहला स्थान हासिल किया है। बिजनौर जिले के आरआर पब्लिक स्कूल की छात्रा रिमझिम अग्रवाल और स्कॉटिश इंटरनेशन स्कूल शामली की नंदिनी ने प्रथम स्थान हासिल किया है।शामली जनपद के स्कॉटिश इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल के दसवीं क्लास की छात्रा नंदिनी गर्ग ने पूरे देश में सीबीएसई टॉप कर जनपद का नाम रोशन किया है। पूरे परिवार के साथ साथ स्कूल में भी खुशी का माहौल है।


क्या कहना है नंदिनी का

-नंदिनी गर्ग ने कहा कि मुझे उम्मीद नहीं थी की मैं देश में टॉप करूंगी। मैंने कोई कोचिंग नहीं की है क्योंकि मेरे स्कूल के टीचर बहुत सपोर्ट करते थे। मैंने खुद से पढ़ाई की है और जब मैं किसी भी तरह से परेशान होती थी तो मेरे माता-पिता मुझे हमेशा प्रोत्साहित करते थे और आगे बढ़ने की सलाह देते थे।

मां ने कहा बेटी पर गर्व है

- नंदिनी की मां शालु गर्ग ने बताया कि हमारी बेटी ने हमारा ही नहीं स्कूल का और पूरे जनपद का नाम देश में रोशन किया है मुझे अपनी बेटी पर गर्व है। उसने घर में ही पढ़ाई की है।

- नंदिनी गर्ग इंजीनियर बनना चाहती हैं और बचपन से ही अपने बल पर कुछ कर दिखाना चाहती हैं।
- नंदनी की दादी और मम्मी की ने बताया कि हमारी बेटी बचपन से ही काफी होशियार थी और अपने दम पर कुछ कर दिखाना चाहती थी। वह दिन-रात मेहनत करती थी लेकिन एग्जाम के दौरान हमारी बेटी ने खुद ही बता दिया था कि हिंदी सब्जेक्ट में मेरा एक नंबर कम आएगा।

5 मार्च से 4 अप्रैल तक हुए थे 10वीं​के एग्जाम

- इस साल 10वीं बोर्ड के एग्जाम 5 मार्च से शुरू हुए थे, जो 4 अप्रैल तक चले थे।
- इस साल 16,38,428 स्टूडेंट्स बोर्ड एग्जाम में शामिल हुए थे।


पेपर लीक की खबरें भी आईं थीं सामने

- एग्जाम के दौरान कई बार पेपर लीक होने की खबरें सामने आईं थीं। बोर्ड ने 10वीं मैथ्स का एग्जाम दोबारा कराने का फैसला लिया था। लेकिन, इस फैसले का देशभर में जमकर विरोध हुआ। स्टूडेंट्स ने मांग की कि एग्जाम या तो सभी सब्जेक्ट के हों या फिर किसी का न हो।
- जिसके बाद बोर्ड ने मैथ्स का री-एग्जाम कराने का फैसला टाल दिया और पुराने एग्जाम के आधार पर ही स्टूडेंट्स को मार्क्स देने का फैसला लिया।

Next News

वेबसाइट के अलावा भी इन 7 तरीकों से चेक कर सकते हैं CBSE 10th का रिजल्ट

स्टूडेंट्स अपना रिजल्ट बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट  cbse.nic.in पर जाकर चेक कर सकते हैं।

Array ( )