बीयू / फिजिक्स डिपार्टमेंट के शोधार्थियों ने प्राप्त की साइंस स्ट्रीम की सभी स्कॉलरशिप

यूजीसी और डीएसटी से मिलने वाली स्कॉलरशिप से रिसर्च कर रहे हैं छात्र

एजुकेशन डेस्क। रिसर्च को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार की विभिन्न एजेंसियां छात्र-छात्राओं को अलग-अलग स्कॉलरशिप और फैलोशिप दे रही हैं। खास बात यह है कि बरकतउल्ला यूनिवर्सिटी के फिजिक्स डिपार्टमेंट में पढ़ने वाले शोधार्थी साइंस स्ट्रीम में मिलने वाली अधिकतर स्कॉलरशिप प्राप्त करने में सफल हुए हैं। यह यूनिवर्सिटी ग्रांट कमिशन (यूजीसी), डिपार्टमेंट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी (डीएसटी) से मिलने वाली स्कॉलरशिप के सहारे विभिन्न सेक्टर में रिसर्च कर रहे हैं। इन स्कॉलरशिप का लाभ किसी भी विवि या कॉलेज के स्टूडेंट्स भी ले सकते हैं।

फिजिक्स डिपार्टमेंट के प्रोफेसर व यूआईटी के डायरेक्टर डॉ. नीरज गौर ने बताया कि मप्र में बीयू का फिजिक्स डिपार्टमेंट एक अकेला विभाग है जिसके पास केंद्र से मिलने वाली लगभग सभी स्कॉलरशिप एवं प्रोग्राम हैं। विभाग में उपलब्ध सुविधाओं का लाभ मप्र के अन्य विवि एवं संबद्ध काॅलेजों के छात्र उठाते हैं। राष्ट्रीय स्तर पर मिलने वाली यह ऐसी स्कॉलरशिप हैं, जिसके सहारे छात्र पसंदीदा क्षेत्र में शोध कार्य कर सकते हैं। उन्हें प्रपोजल बनाने में विभाग मदद करता है। शोध करने के इच्छुक छात्र विभाग में संपर्क कर सकते हैं। 

सात प्रमुख फैलोशिप व स्कॉलरशिप... किसी भी विवि या कॉलेज के रिसर्च में रुचि रखने वाले स्टूडेंट्स भी ले सकते हैं इनका लाभ

मेरिटोरियस स्कॉलरशिप : यूजीसी यह स्कॉलरशिप 5 मेरिटोरियस स्टूडेंट्स को पीएचडी के दौरान किए जाने वाले रिसर्च वर्क के लिए उपलब्ध कराती है। इसमें चयन यूनिवर्सिटी स्तर पर होता है। हर स्टूडेंट्स को हर महीने एचआरए के साथ 28 हजार रुपए दिया जाता है।

मौलाना आजाद नेशनल स्कॉलरशिप : यूजीसी द्वारा अल्पसंख्यक वर्ग के उम्मीदवारों के लिए यह विशेष स्कॉलरशिप दी जाती है। फिजिक्स डिपार्टमेंट की दो शोधार्थी अमरीन बानो व गजाला परवीन को यह मिल रही है। इसके लिए उम्मीदवार का नेट, सेट या यूनिवर्सिटी स्तर की पीएचडी प्रवेश परीक्षा क्वालिफाई होना जरूरी है। नवंबर-दिसंबर में इसकी सूचना जारी होती है। चयन पर हर माह एचआर के साथ 30 हजार व 25 हजार सालाना आकस्मिक निधि के तौर पर दिया जाता है।

इंस्पायर फैलोशिप : डीएसटी से मिलने वाली यह फैलोशिप फिजिक्स डिपार्टमेंट की शोधार्थी आरती शुक्ला को मिल रही है। यह एमएससी में यूनिवर्सिटी की टॉपर को दी जाती है। दिल्ली स्थित डीएसटी कार्यालय में रिसर्च के प्रपोजल के साथ प्रेजेंटेशन व इंटरव्यू की प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है। चयन होने पर 5 साल तक हर माह एचआरए के साथ 30 हजार का भुगतान किया जाता है।

सीनियर रिसर्च फैलोशिप : काउंसिल ऑफ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्स (सीएसआईआर) द्वारा यह फैलोशिप इस उद्शदे्य के साथ उपलब्ध कराई जाती है। यह देवेंद्र पाण्डे व वनश्री पारे को मिल रही है। इंटरव्यू के माध्यम से राष्ट्रीय स्तर पर चयन होता है। तीन साल के लिए एचआरए के साथ 33 हजार रुपए प्रतिमाह का भुगतान किया जाता है। 

नशने ल स्कॉलरशिप फॉर एससी-एसटी : यूसीजी की यह स्कॉलरशिप दो शोधार्थी ज्योति बामने और सतीष कासदे को प्राप्त हो रही है। इसमें हर माह एचआरए के साथ 30 हजार रुपए का भुगतान किया जाता है। उम्मीदवार का नेट, सेट या फिर यूनिवर्सिटी की पीएचडी प्रवेश परीक्षा पास करनी जरूरी है। इसके अलावा पोस्ट डॉक्टरल फैलोशिप भी उपलब्ध कराई जाती है। रसना ठाकुर व मधु सरवन को इसका लाभ मिल रहा है। एचआरए के साथ 47 हजार रुपए हर महीने दिए जाते हैं।

वुमन साइंटिस्ट फैलोशिप : डीएसटी द्वारा यह सांइस स्ट्रीम में काम करने वाली ऐसी महिला शोधार्यों को दी थि जाती है जिनकी पारिवारिक कारणों से पढ़ाई रुक गई हो। यह फैलोशिप दो तरह से दी जाती है। पहली- डॉक्टरल। इसका लाभ लेकर अथर परवीन ने रिसर्च पूरा किया है। इसमें हर माह 30 हजार मिलते है। दूसरी- पोस्ट डॉक्टरल। इसमें डॉ. दीपिका ित्रपाठी व डॉ. रश्मि का चयन हुआ है। इसमें 47 हजार हर माह मिलते हैं।

पोस्ट डाॅक्टरल फैलोशिप : सीएसआरआई की इस फैलोशिप के लिए रिसर्च एसोसिएट के तौर पर शोधार्यों थि का राष्ट्रीय स्तर पर चयन होता है। इसमें उच्च स्तर के रिसर्च के साथ पीएचडी व पेपर पब्लिकेशन होने चाहिए। फिजिक्स डिपार्टमेंट में डॉ. अंचित मोदी व डॉ. श्रीजा पिल्लइई को यह मिल रही है। इसमें 47 हजार माह का भुगतान किया जाता है।
 

UGC
Next News

सरकारी नौकरी/ असिस्टेंट प्रोफेसर के 2331 पदों पर निकलीं भर्ती

तमिलनाडु सरकार, शिक्षक भर्ती बोर्ड, चेन्नई ने असिस्टेंट प्रोफेसर के  2331 पदों पर वैकेंसी निकाली हैं।

NCERT/ स्कूलों में पढ़ाई के दौरान या लंच ब्रेक में गाने बजाएं ताकि छात्रों का उत्साह बढ़े

एनसीईआरटी ने कहा- रिसर्च से पता चला है कि संगीत बच्चों में बेहतर ग्रहणशीलता लाता है

Array ( )