Articles worth reading

बिहार बोर्ड: 2019 के मैट्रिक-इंटर परीक्षा के लिए फॉर्म भरने का शेड्यूल जारी

स्कूलों के द्वारा परीक्षा फॉर्म समिति के वेबसाइट पर 19 सितंबर से 25 सितंबर के बीच ऑनलाइन जमा किया जाएगा।

एजुकेशन डेस्क। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने मैट्रिक व इंटर परीक्षा 2019 के लिए परीक्षा फॉर्म भरने तथा शुल्क जमा करने की तिथि जारी कर दी है। वार्षिक माध्यमिक परीक्षा, 2019 के लिए नियमित एवं प्राइवेट कैटेगरी के पंजीकृत सभी विद्यार्थियों का मूल पंजीयन कार्ड एवं ऑनलाइन परीक्षा आवेदन पत्र समिति के वेबसाइट www.biharboard.online से 14 सितंबर से 18 सितंबर के बीच विद्यालयों द्वारा डाउनलोड कर अपने हस्ताक्षर एवं मुहर के साथ छात्रों को दिया जाएगा। छात्र इस फॉर्म को ऑफलाइन तरीके से भरेंगे।

इसके बाद स्कूलों के द्वारा परीक्षा फॉर्म समिति के वेबसाइट पर 19 सितंबर से 25 सितंबर के बीच ऑनलाइन जमा किया जाएगा। इंटर परीक्षार्थियों का मूल पंजीयन कार्ड एवं ऑनलाइन परीक्षा आवेदन पत्र समिति के वेबसाइट पर 20 सितंबर से 24 सितंबर के बीच शिक्षण संस्थानों द्वारा डाउनलोड कर छात्रों को दिया जाएगा। 

ई-चालान से जमा होगा शुल्क 
- छात्र फॉर्म को भरकर कॉलेज में जमा करेंगे। 25 सितंबर से 1 अक्टूबर के बीच शिक्षण संस्थान फॉर्म को ऑनलाइन भरेंगे। आवेदन ऑनलाइन भरने एवं परीक्षा शुल्क जमा करने के लिए ई-चालान के लिए विद्यालय के प्रधान स्वयं समिति द्वारा उपलब्ध कराए गए यूजर आईडी एवं पासवर्ड के माध्यम से समिति के वेबसाइट पर लॉगइन करेंगे। परीक्षा आवेदन शुल्क का भुगतान केवल ई-चालान के माध्यम से किया जाएगा। डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, नेट बैंकिंग के माध्यम से परीक्षा शुल्क स्वीकार नहीं किया जाएगा। बोर्ड ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है। आवेदन भरने या परीक्षा शुल्क जमा करने में किसी प्रकार की असुविधा होने पर समिति के हेल्प लाईन नं. 0612-2232074, 2232257, 2232239, 2230051, 2232227 पर संपर्क किया जा सकता है। 

सामान्य कोटि में 830 रुपए लगेगा शुल्क 
- वार्षिक माध्यमिक परीक्षा, 2019 के लिए पिछले साल की तरह ही प्रति परीक्षार्थी निर्धारित परीक्षा शुल्क सामान्य कोटि के विद्यार्थियों के लिए 830 रुपए तथा एससी, एसटी व बीसी 1 के विद्यार्थियों के लिए 730 रुपए है। केवल गृह विज्ञान, नृत्य, संगीत एवं ललित कला के परीक्षार्थियों के लिए 855 रुपए शुल्क सामान्य कोटि में देय होगा तथा 755 रुपए आरक्षित कोटि के छात्रों को देने होंगे। एडमिट कार्ड जारी करने के लिए विद्यार्थियों का सेंटअप होना अनिवार्य है। मैट्रिक में इस बार 13 लाख 97 हजार 656 परीक्षार्थी हैं। 

इंटर में 10 लाख से अधिक परीक्षार्थी 
- इंटर परीक्षा के लिए फॉर्म भरने वाले नियमित, स्वतंत्र कोटि के परीक्षार्थियों को पिछले साल की तरह ही परीक्षा शुल्क 1,220 रुपए देने होंगे। समुन्नत एवं क्वालिफाइंग परीक्षार्थियों के लिए अनुमति शुल्क 300 रुपए अलग से देना होगा। यानि ऐसे छात्रों को 1520 रुपए देने होंगे। व्यावसायिक पाठ्यक्रम के परीक्षार्थियों के लिए परीक्षा शुल्क 1570 रुपए निर्धारित है। इंटर में इस बार 10 लाख 13 हजार परीक्षार्थी हैं। 
 

Next News

BIHAR: BSEB ने जारी किया 10वीं कंपार्टमेंट 2018 का रिजल्ट

10वीं कंपार्टमेंट एग्जाम बार्ड द्वारा जुलाई में ओयोजित किए गए थे।

CBSE: 10वीं-12वीं में अब टेस्ट होगी एनालिटिकल स्किल 

इस साल से नहीं अगले साल से होगा बदलाव, 1 से 5 नंबर के सवाल पूछे जाएंगे ज्यादा 

Array ( )