AILET: फॉरेन नेशनल कैटेगिरी का रिजल्ट घोषित, देवांश ने किया टॉप

इस साल 17,475 कैंडिडेट्स ने एग्जाम दिया था। देवांश कौशिक ने आईलेट एग्जाम 98.25 मार्क्स के साथ ऑल इंडिया में पहली रैंक हासिल की है।

एजुकेशन डेस्क। नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी , दिल्ली नें आईलेट 2018 के फॉरेन नेशनल कैटेगिरी के रिजल्ट 23 मई को घोषित कर दिए है। आईलेट एंट्रेस एग्जाम के द्वारा कैंडिडेट्स को 5 साल के लॉ कोर्सेस में एडमिशन दिया जाता है। इसके साथ ही एनएलयू दिल्ली ने फॉरेन नेशनल कैटेगिरी मे सिलेक्ट हुए कैंडिडेट्स की लिस्ट भी जारी की है जिन्हें बीए.एल.एल.बी कोर्स में एडमिशन दिया जाएगा। इस साल 17,475 कैंडिडेट्स ने एग्जाम दिया था। देवांश कौशिक ने आईलेट एग्जाम 98.25 मार्क्स के साथ ऑल इंडिया में पहली रैंक हासिल की है। आईलेट एग्जाम के एल.एल.एम कोर्स में एडमिशन के रिजल्ट 2 जुलाई को घोषित होंगे।

यह है आईलेट 2018 के टॉपर

रैंक     

नाम    

स्कोर    

1

देवांश कौशिक 98.28
2 हर्षिता गुप्ता 84
3 अनमोल गुप्ता 83.75
4 शिखर अग्रवाल 83
5 दर्शन मणी 81.75
6 ईशान भटनागर 81.50
7 गौरव दलाल 80
8 कुनाल  79.50
9 रितेश पटनायक 79.25
10 अपूर्वा      79.25

 

यहां देखे रिजल्ट

आईलेट रिजल्ट 2018 रोल नंबर वाइस

यहां क्लिक करें

आईलेट रिजल्ट 2018 मार्क्स वाइस 

यहां क्लिक करें

आईलेट रिजल्ट 2018 मेरिट लिस्ट (सभी कैंडिडेट्स)

यहां क्लिक करें

आईलेट रिजल्ट 2018 जनरल

यहां क्लिक करें

आईलेट रिजल्ट 2018 कश्मीरी माइग्रेंट 

यहां क्लिक करें

आईलेट रिजल्ट 2018 जम्मू कश्मीर के निवासी 

यहां क्लिक करें

आईलेट रिजल्ट 2018 एससी

यहां क्लिक करें

आईलेट रिजल्ट 2018 एसटी

यहां क्लिक करें

आईलेट रिजल्ट 2018 दिव्यांग

यहां क्लिक करें

आईलेट रिजल्ट 2018 फॉरेन नेशनल

यहां क्लिक करें

 

यह रहा कटऑफ 

कैटेगिरी

कटऑफ 2018

कटऑफ 2017

जनरल

71.25 89

एससी

49.50 71

एसटी

48.25 68

दिव्यांग

42.75 74

कश्मीरी माइग्रेंट    

40.25 81

जम्मू-कश्मीर के निवासी

58 78

ऑफिशियल वेबसाइट पर जाने के लिए यहां क्लिक करें

Next News

AIIMS: एमबीबीएस के लिए जारी हुए एडमिट कार्ड, 27-28 मई को होगा एग्जाम

कंप्यूटर आधारित टेस्ट (सीबीटी) के रूप में यह एग्जाम लिया जाएगा। एग्जाम 27 और 28 मई को एम्स द्वारा लिया जाएगा

एमपी बोर्ड: डीएलएड एग्जाम 19 जून से, 28 हजार कैंडिडेट्स होंगे शामिल

बोर्ड की देखरेख में होने वाली इस एग्जाम को लेकर अंचल में 43 केंद्र बनाए गए हैं। इन सभी को संवेदनशील कैटेगरी में रखा गया है।

Array ( )