इतिहास में आज (25/01/2019) / 8 साल पहले देश के चुनाव आयोग के 61वें स्थापना वर्ष पर राष्ट्रीय मतदाता दिवस शुरू

ये दिवस चुनाव आयोग के 61वें स्थापना वर्ष पर तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल ने शुरू किया था

2011- आज ही के दिन पहली बार (25/01/2019) मतदाता दिवस मनाया गया था। ये दिवस चुनाव आयोग के 61वें स्थापना वर्ष पर तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल ने शुरू किया था। भारत जैसे सबसे बड़ेलोकतंत्र में मतदान को लेकर कम होते रुझान को देखते हुए राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जानेलगा था। इसके मनाए जाने के पीछे निर्वाचन आयोग का उद्देश्य था कि देश भर के सभी मतदान केंद्र वाले क्षेत्रों में प्रत्येक वर्ष उन सभी पात्र मतदाताओं की पहचान की जाएगी, जिनकी उम्र एक जनवरी को 18 वर्ष हो चुकी होगी। इस सिलसिले में 18 वर्ष या उससे अधिक उम्र के नए मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में दर्ज किए जाएंगे और उन्हें निर्वाचन फोटो पहचान पत्र सौंपे जाएंगे। इस दिवस के दो प्रमुख विषय थे-समावेशी- गुणात्मक भागीदारी और कोई मतदाता पीछे न छूटे। चुनाव आयोग एक स्वायत्त, अर्द्ध न्यायिक, संवैधानिक निकाय है। इसके कामकाज में कार्यपालिका का कोई हस्तक्षेप नहीं होता। 

खास : मतदान में भागीदारी बढ़ाने के लिए चुनाव आयोग ने 2009 में सिस्टेमेटिक वोटर्स एजुकेशन एंड इलेक्ट्रोल पार्टिसिपेशन अभियान शुरू किया था।

Next News

इतिहास में आज (24/01/2018) / 69 साल पहले संविधान सभा ने जन गण मन को भारत के राष्ट्रगान के तौर पर स्वीकारा था

इसके पहले इसे 27 दिसंबर 1911 को कांग्रेस के कोलकाता अधिवेशन में गाया गया था

Array ( )